Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

औरंगाबाद: डॉक्टर की लापरवाही से निजी नर्सिंग होम में महिला की मौत, आक्रोशित ग्रामीणों ने किया सड़क जाम

0 305

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार के गांवों में कुकुरमुते की तरह उग आये प्राइवेट नर्सिंग होम ने मंगलवार को एक महिला की जान ले ली। मामला औरंगाबाद जिले के सदर प्रखंड अंतर्गत बेला गांव से जुड़ा है। जहाँ सत्येंद्र राम ने अपनी  पत्नी हेमंती कुमारी को बेला गांव स्थित एक निजि नर्सिंग होम में इलाज के भर्ती कराया था।

शव

मृतक महिला के पति ने बताया कि उन्होंने अपनी पत्नी हेमंती को बच्चेदानी की ऑपरेशन के लिए एक सप्ताह पहले गांव के इस प्राइवेट नर्सिंग होम में एडमिट करवाया था। लेकिन ऑपरेशन के दो दिन तक ठीक रहा। वहीं तीसरे दिन से पत्नी की हालत बिगड़ने लगी। और तेज बुखार आ गया। चिकित्सकों ने कमजोरी कहकर सलाइन चढ़ा दिया। लेकिन उसकी हालत और बिगड़ने लगी। जब हालत पूरी तरह से बिगड़ गया तो उसे गया ले जाने को कहा गया।

लेकिन पत्नी की गंभीर स्थिति को देखकर उसे जिले के सदर अस्पताल हमलोग लेकर आ गये । जहाँ चिकित्सकों ने उपचार के प्रयास के बाद मृत घोषित कर दिया। जैसे ही महिला के मौत की खबर ग्रामीणों को लगी चिकित्सकों के नर्सिंग होम के पास शव को रखकर बेला -फ़ेसर सड़क को जाम कर दिया और चिकित्सक के खिलाफ कारवाई करने की मांग करने लगे।

आक्रोशित ग्रामीण मृतक के परिजनों को मुआवजा देने की मांग करने लगे। वहीं आक्रोशित जनता को देखकर नर्सिंग होम के चिकित्सक और कर्मी भाग खड़े हुए।
घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों को समझाते हुए कठोर कारवाई का आश्वासन दिया। शव का पोस्टमार्टम कर महिला के परिजनों को सौंप दिया गया है।

वहीं मौके पर पहुंचे बहुजन समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष दिनेश राम ने मृतक के परिजनों से मुलाकात कर गहरी संवेदना व्यक्त की। साथ ही उन्होंने जिला प्रशासन से मृतक के परिजन को मुआवजा देने की मांग की। जिलाध्यक्ष ने कहा कि इस तरह के लगातार जिले से मामले आ रहे हैं जिसमें प्राइवेट नर्सिंग होम पैसे के चक्कर में लोगों की जान ले रहे हैं। इसपर जिला प्रशासन से जल्द से जल्द एक्शन लेने की मांग करते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.