Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

बिहार: क्या है केंद्र की अग्निपथ योजना जिससे मचा है बवाल और छात्र कर रहे हैं ट्रेनों को रोककर तोड़फोड़

0 218

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: केंद्र सरकार द्वारा सशस्त्र सेनाओं की  बहाली के लिए घोषित की गई मंगलवार को अग्निपथ योजना के तहत मात्र चार साल के लिए बहाली होगी। वहीं इसके लिए उम्र सीमा 17 वर्ष से 21 वर्ष तक रखी गई है। इस योजना का एलान मंगलवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने किया। उन्होंने इस फैसले को युवाओं को अधिक संख्या में सेना से जोड़ने का सुधार बताया। साथ ही उन्होंने इस फैसले को आधुनिकीकरण को लेकर किया गया फैसला बताया।

लेकिन केंद्र के इस फैसले का विरोध भी बिहार में शुरू हो गया है। इसे लेकर राज्य के कई जगहों पर युवाओं ने ट्रेन रोककर हंगामा करते हुए पथराव किया। वहीं मुजफ्फरपुर में सड़कों पर युवाओं ने बवाल काटा। कई जिलों में चक्काजाम भी किया गया। इतना ही नहीं कई जगह तो हाईवे जाम किया गया। केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए युवाओं ने आगजनी भी की।  इस दौरान मौके पर मौजूद पुलिस और जीआरपी ने अभ्यर्थियों को समझाने की कोशिश की लेकिन छात्र अपनी मांगों पर अड़े रहे ।

इस मामले में नाराज छात्रों का कहना है कि वे इस योजना के तहत चार साल नौकरी करने के बाद फिर कहां जाएंगे। छात्रों ने कहा कि हम सभी मानते हैं कि सरकार 11 लाख रुपये देगी । लेकिन उसके बाद भी सरकार गारंटी दे कि हमें नौकरी पर रखा जाएगा। वहीं कई छात्रों का यह भी कहना है कि मोदी सरकार ने उनलोगों के लिए क्या सोचा है जिनकी उम्र इस फैसले से प्रभावित होगी। जबकि वे इसके लिए पहले से तैयारी में जुटे हैं । अचानक उम्र सीमा घटाने से उनका क्या होगा। वे सड़क पर आ गये हैं।

आपको यह भी बता दें कि इसके लिए 10वीं से लेकर 12वीं तक के छात्र आवेदन कर सकेंगे। इसकी शुरुआत 90 दिन के भीतर हो जाएगी। इस साल 46 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जाएगी। पहली भर्ती प्रक्रिया में युवाओं को छह महीने की ट्रेनिंग दी जाएगी। ट्रेनिंग का समय भी चार साल में शामिल होगा।

वहीं हर अग्निवीर को भर्ती के साल 30 हजार महीने तनख्वाह मिलेगी। दूसरे साल अग्निवीर की तनख्वाह बढ़कर 33 हजार, तीसरे साल 36.5 हजार तो चौथे साल 40 हजार रुपये हो जाएगी। 25 फीसदी अग्निवीरों को सेवा विस्तार भी मिलेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.