Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया ग्रामीण सोलर लाइट योजना का शुभारंभ, अब जगमग होंगी गांवों की भी गालियाँ

0 185

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: सीएम नीतीश कुमार ने आज यानि गुरुवार को सोलर स्ट्रीट लाइट योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने इसका शुभारंभ पटना में पंचायतीराज विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में की। इस योजना के तहत ग्राम पंचायत के हर वार्ड में 10 सोलर स्ट्रीट लाइट लगाना है। इससे अब गांवों की तस्वीर भी बदल जाएगी।

बिहार नेशन

आपको बता दें की सात निश्चय पार्ट -टू के तह्त हर वार्ड में 10 स्ट्रीट लाइट लगनी हैं। अगर वार्ड में संख्या अधिक है तो वहां अतिरिक्त लाइट भी लगाई जाएगी। वहीं इस अवसर पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि अब बिहार के गांव की गलियां अंधेरा मुक्त होगी। हम लोग प्रचार करने वाले नहीं है। हम बिहार की जनता के लिए रात दिन काम करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि अगर बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिला होता तो कितना काम करते और कितना ज्यादा विकास राज्य में हो सकता है ।

नीतीश कुमार ने संबोधन में कहा कि सोलर लाइट से गांव की गलियों के अंधेरे को दूर किया जाएगा। साथ ही कहा कि हर क्षेत्र में काम हो रहे हैं। स्वास्थ्य क्षेत्र में काम हो रहा है, पढ़ाई, दवाई,कमाई, वाली यह सरकार है। अंधेरे में अपराध होते थे, लेकिन अब अपराध संख्या घटेगी। साथ ही कहा कि इसमें मरम्मत कार्य जुड़ा है। पटना से निगरानी होगी। कौन से वार्डो में कौन लाइट खराब हैं उसे देखा जायेगा। सीएम ने कहा कि हमने सभी जगह बिजली पहुंचा दी है। नल का जल पहुंचाई गई। पक्की नाली और गली बनाई गई। उन्होंने कहा कि हम काम करने के साथ देखभाल भी कर रहें हैं। दो साल के अंदर सारा काम पूरा हो जाएगा।

सीएम ने कहा कि सात निश्चय योजना के तहत बिहार के सभी गांवों में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाई जा रही है। इससे न सिर्फ गांवों की सड़कें चमकेंगी बल्कि बिजली की भी बचत होगी। सभी गांवों में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाने के लिए संबंधित विभागों द्वारा आवश्यक कार्रवाई शुरू कर दी गई है। हर गांव में सोलर लाइट लगाने के लिए एजेंसियों के क्रियान्वयन में लगा हुआ है। कौन सी एजेंसी गांवों में जाकर सोलर लाइट लगाएगी, यह पैनल द्वारा ही तय किया जाएगा। फिलहाल बता दें कि सात निश्चय पार्ट-टू में हर वार्ड में 10 स्ट्रीट लाइट लगनी है। अगर कोई गांव बड़ा है तो उसके अनुसार लाइट की संख्या बड़ा दी जाएगी।

आपको बता दें कि ग्रामीण सोलर लाइट योजना के तहत बिहार के जहानाबाद, सहरसा, नालंदा, जमुई, वैशाली, बक्सर, लखीसराय, किसनगंज, नेवादा, खगरिया, गोपालगंज, बंका, शेखपुरा, कटिहार, पूर्णिया, कैमूर, सीवान, भागलपुर, मुंगेर, बेगूसराय, सुपौल, मधेपुरा, दरभंगा, भोजपुर, गया, पूर्वी चंपारण, पटना, मुजफ्फरनगर, समस्तीपुर, अरवल, सीतामढ़ी, सारण, अररिया, रोहतास, पश्चिमी चंपारण, औरंगाबाद, शिहोर और मधुबनी के 109779 शहरी क्षेत्रों के वार्ड और इन्हीं जिलों की 8067 ग्राम पंचायतों में सोलर स्ट्रीट लाइट लगनी है।

उन्होंने बताया कि ग्रामीण सोलर लाइट योजना के अन्तर्गत 2 हजार करोड़ का बजट निर्धारित किया गया है। इस बजट से प्रत्येक वार्ड और गांव में 10-10 सोलर स्ट्रीट लाइटों की स्थापना की जायेगी। इन लाइटों के इंस्टालेशन का कार्य इसी फाइनेंशियल ईयर में पूर्ण करने का लक्ष्य तय किया गया है। साथ ही इस योजना के अन्तर्गत लगने वाली सोलर स्ट्रीट लाइट काफी हाईटेक होगी। यह लाइटें ऑटोमेटिक ऑन और ऑफ के अलावा मोशन सेंसर से युक्त होंगी।

खैर इतना तो जरूर है कि अगर इस योजना के तहत गांवों में सोलर लाइट लगती है तो अपराध की घटनाओं में कुछ हद तक कमी आएगी । वहीं ग्रामीण कई प्रकार के नुकसान से बच जाएंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.