Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

DM सौरभ जोरवाल मिले कई व्यवसायों के लिए निःशुल्क प्रशिक्षण ले रही महिलाओं से, किया संवाद

0 99

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: औरंगाबाद जिले में मंगलवार को जिला पदाधिकारी सौरभ जोरवाल द्वारा ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान, ब्लॉक कैंपस, औरंगाबाद में ग्रामीण महिलाओं के प्रशिक्षण कार्यक्रम को देखा गया और महिलाओं से संवाद किया गया। सभी महिलाएं सिलाई मशीन, टेलरिंग का प्रशिक्षण ले रही थी और प्रशिक्षण के पश्चात पीएनबी के लॉन से अपना व्यवसाय प्रारंभ करेंगी। वर्तमान प्रशिक्षण कार्यक्रम 1 माह के लिए है जिसमे नि:शुल्क भोजन एवं आवासन की भी सुविधा है।

बिहार नेशन मीडिया

भारत सरकार, ग्रामीण विकास मंत्रालय के निर्देशों के तहत पंजाब नैशनल बैंक की सहायता से औरंगाबाद जिले में ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (RSETI) कार्यरत है। जिसमें किसी भी व्यक्ति को स्वरोजगार उन्मुखी प्रशिक्षण पूर्णतः नि:शुल्क प्रदान किया जा रहा है। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में जिला प्रशासन द्वारा स्वरोजगार के लिए इच्छुक लाभार्थियों को प्रशिक्षण दिलवाया जा रहा है।

इस संस्थान में मुख्यतः घरेलू बिजली उपकरण मरम्मत एवं विद्युत वायरिंग, टी० वी० मरम्मत, फ्रीज एवं एयर कंडीशन मरम्मत, अल्युमुनियम फेब्रिकेशन, इन्वर्टर- यू०पी०एस० निर्माण एवं मरम्मत, मोबाईल फोन मरम्मत, कम्प्यूटर संबंधित प्रशिक्षण, ब्यूटी पार्लर ज्ञान एवं प्रबंधन (महिला एवं पुरुष), कपड़ा सिलाई- ड्रेस डिजाईनिंग (महिला एवं पुरुष) अगरबत्ती एवं मोमबत्ती निर्माण, अचार- पापड़ एवं मसाला निर्माण, खिलौना निर्माण, लिफाफा, ठोंगा, फाईल कॅवर, मोटर साईंकल मरम्मत, मोटर ड्राईविंग, पलम्बींग एवं सेनेटरी, बढईगिरी, राज मिस्त्री (LSBA) बिल्डींग पेटिंग, चाय नास्ता (फास्त फुड) स्टॉल, सभी प्रकार के दुकानदारी, फोटोग्राफी एवं विडियोग्राफी, फोटो फ्रेमिंग- लेमिनेशन, स्क्रीन प्रिंटिंग, माईको उद्यमी इत्यादि विकास प्रशिक्षण के साथ-साथ उद्यमिता विकास (EDP) से सम्बन्धित प्रशिक्षण, डेयरी एवं वर्मी कम्पोस्ट, मुर्गी पालन, शुकर पालन, मधुमक्खी पालन, मछनी पालन, पॉली हाउस, और छाया नेट खेती, मशरूम उत्पादन, व्यापारीक पुष्प उत्पादन, व्यापारिक बागवानी, सुगंधित एवं औषधीय पौधों की खेती, सब्जी नर्सरी, कृषि उद्यमी इत्यादि का प्रशिक्षण दिया जाता है।

जिला पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि उम्र सीमा 18 से 45 वर्ष के बीच का कोई भी बेरोजगार व्यक्ति जो जिले का निवासी हो, साधारण पढ़ने-लिखने की क्षमता हो एवं स्वरोजगार तथा आत्म उत्थान के प्रति रुझान हो, वह इस संस्थान से पूर्णतः निःशुल्क प्रशिक्षण प्राप्त कर सकता है। नामांकन हेतु विभिन्न प्रकार के मान्य आईडी (फोटो पहचान), आवास प्रमाण-पत्र, जन्मतिथि (आयु) का प्रमाण पत्र, चार फोटो एवं राशन कार्ड इत्यादि लेकर कार्यालय में किसी भी दिन प्रातः 10 बजे से सायं 05 बजे तक सम्पर्क कर नामांकन करा सकते हैं। सभी प्रशिक्षण में BPL एवं MGNREGA को प्राथमिकता दी जाती है ।

जिला पदाधिकारी द्वारा संस्थान के मैनेजर के साथ कैंपस का निरीक्षण किया गया और साफ सफाई में वृद्धि करने एवं आवासन को अधिक सुव्यवस्थित करने का निदेश दिया गया। इसके अतिरिक्त भोजन की गुणवत्ता की भी जांच की गई तथा गुणवत्ता बनाए रखने के लिए लगातार पर्यवेक्षण हेतु कहा गया। संस्थान के आगे पेबर ब्लॉक लगाने का कार्य चल रहा था जिसे शीघ्र पूर्ण करने का निदेश दिया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.