Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

वैक्सीन की है कमी,लेकिन सीएम नीतीश ने टीका एक्सप्रेस को दिखाई हरी झंडी,पढ़े ये रिपोर्ट..

बिहार में कोरोना संक्रमण को जड़ से उखाड़ फ़ेकने के लिये सीएम नीतीश ने आज टीकाकरण एक्सप्रेस की शुरुआत की । यह टीकाकरण एक्सप्रेस शहरी क्षेत्र में टीकाकरण में तेजी लाएगा

0 47

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट  

बिहार नेशन: बिहार में कोरोना संक्रमण को जड़ से उखाड़ फ़ेकने के लिये सीएम नीतीश ने आज टीकाकरण एक्सप्रेस की शुरुआत की । यह टीकाकरण एक्सप्रेस शहरी क्षेत्र में टीकाकरण में तेजी लाएगा । सीएम नीतीश कुमार ने गुरुवार को 121-कोविड-टीका एक्सप्रेस की शुरुआत की । इसके साथ ही सीएम ने आरटीपीसीआर टेस्ट के लिये भी चार वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया । लेकिन यह हरी झंडी उस समय दिखाया गया है जब वैक्सीन की कमी राज्य में है .

कोरोना वैक्सीन

सीएम नीतीश कुमार इस दौरान विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े । वहीं सरदार पटेल भवन में एक कार्यक्रम में डिप्टी सीएम रेणु देवी और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय पहुंचे । मुख्यमंत्री ने जांच से जुड़े  सभी वैन को रवाना करने के बाद इससे जुड़े सभी लोगों को बधाई दी ।

इस मौके पर सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग लगातार लोगों की मदद कर रहा है। हम चाहते हैं कि आरटीपीसीआर की जांच में और तेजी आए। इसके लिये सरकार लगातार प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा की हमलोग इस प्रयास मे लगे हैं कि साल के अंतिम तक अधिक से अधिक लोगों को कोरोना का टीका लगे ताकि अधिक से अधिक लोग सुरक्षित रहें।

corona

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि हर परिस्थितियों से निपटने के लिये सरकार तैयार है। भविष्य में कोरोना संक्रमण के खतरे को लेकर भी सरकार सभी जिलों में नजर रखे हुई है। वहीं स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय ने कहा की इस तरह का टीका एक्सप्रेस 718 क्षेत्रों मे चलाया जा रहा है। अभी बिहार में कुल मिलाकर 839 टीका एक्सप्रेस जाकर लोगों का टीकाकरण कर रही है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जल्द ही चार और आरटीपीसीआर वैन आएगा । लोगों से उन्होंने अपील की कि वे कोरोना के टीकाकरण में सहयोग करें । अफवाहों से बचें ।अभी  कोरोना टीकाकरण 18 से 44 वर्ष तक के लिये किया जा रहा है। जबकि पटना एम्स में बच्चों के लिये भी वैक्सीन का ट्रायल शुरू कर दिया गया है।

लेकिन इसी बीच कोरोना वैक्शिनेशन को लेकर भी सवाल उठने लगे हैं. क्योंकि जब कोरोना का टीका है ही नहीं तो फिर टीका एक्सप्रेस का क्या मतलब है. पटना की ही बात करें तो लोगों को आज 8 दिनों के बाद कोरोना की वैक्सीन मिली है. हालांकि सरकार ने कोरोना टीकाकरण को लेकर बड़ा कदम उठाया है. लेकिन इसे वर्ष के अंत तक सफल बनाना भी उतना ही चुनौती भरा कार्य है. सबसे बड़ी बात कोरोना की वैक्सीन को स्टॉक रखना होगा तभी जाकर यह टीकाकरण सफल होगा.

कोरोना

आपको बता दें कि बिहार में लॉकडाउन लगाने के बाद से कोरोना संक्रमण के आंकड़ों में तेजी से गिरावट दर्ज की गई है. बिहार में यह लॉकडाउन चौथी बार लगाया गया है जो 8 जून तक रहेगा. लेकिन इस बार व्यापारियों को कुछ छूट दी गई है.

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.