Bihar Nation
सबसे पहले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

G-20 समिट में भाग लेने भारत पहुंचे ब्रिटिश PM सुनक, ‘जय सियाराम’ से किया गया स्वागत, बिहार के इस सांसद ने किया रिसीव

0 201

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: ब्रिटिश पीएम सुनक भारत पहुंच गये हैं ।भारत पहुंचने पर उनका ‘जय सियाराम’ से स्वागत किया गया। यानी अब राजधानी दिल्ली में G-20 समिट के लिए विदेशी मेहमानों के आने का सिलसिला शुरू हो चुका है। पीएम सुनक को दिल्ली पहुंचने पर केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे उन्हें रिसीव करने के लिए एयरपोर्ट पहुंचे थे। बता दें कि बतौर ब्रिटिश पीएम यह उनका भारत का पहला दौरा है।

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के मीडिया सलाहकार पंकज मिश्रा ने बताया कि स्वागत के दौरान केंद्रीय मंत्री चौबे ने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री को उनके पूर्वजों की धरती पर अभिनंदन करते हुए’ जय सियाराम’ से अभिवादन किया। ऋषि सुनक को केंद्रीय मंत्री ने बताया कि वह बिहार के बक्सर से सांसद हैं। बक्सर आध्यात्मिक रूप से प्राचीन काल से ही प्रसिद्ध नगर है। जहां भगवान श्री राम और उनके भाई लक्ष्मण ने गुरु महर्षि विश्वामित्र से शिक्षा दीक्षा ली थी और ताड़का वध किया था।

ब्रिटिश प्रधानमंत्री सुनक ने भारत की आध्यात्मिक और सांस्कृतिक गाथा को उत्साह से सुना। उन्होंने प्रधानमंत्री सुनक और उनकी पत्नी अक्षता मूर्ति का भारत के दामाद और बेटी के रूप में भी स्वागत किया। अश्विनी चौबे ने कहा कि भारत की धरती आपकी पूर्वजों की धरती है। आपके यहां आने से सभी काफी उत्साहित हैं।

अश्विनी चौबे ने अयोध्या बक्सर सहित मां जानकी के जन्म स्थान सीतामढ़ी और बांका के मंदार पर्वत की आध्यात्मिक संस्कृति से भी प्रधानमंत्री सुनक और उनकी अक्षता को अवगत कराया। इसके साथ ही उन्होंने सुनक को रुद्राक्ष, श्रीमद्भागवत गीता और हनुमान चालीसा भी भेंट की।

आपको बता दें कि पीएम ऋषि सुनक ने कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में आध्यात्मिक गुरु मोरारी बापू की रामकथा में शामिल हुए थे और उन्होंने मोरारी बापू की व्यासपीठ पर ‘जय सियाराम’ का नारा लगाया था। मोरारी बापू की रामकथा सुनने पहुंचे ऋषि सुनक ने अपने संबोधन में कहा था कि वो यहां प्रधानमंत्री के रूप में नहीं, बल्कि हिंदू के रूप में शामिल हुए हैं। सुनक ने कहा था कि मुझे ब्रिटिश होने और हिंदू होने पर गर्व है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.