Bihar Nation
सबसे पहले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

देश में हर्षोल्लास से मनाई जा रही है बुद्ध पूर्णिमा, जानें इसका इतिहास और महत्व, सीएम ने दी बधाई

0 195

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: आज गौतम बुद्ध जयंती है। इसे देश भर में हर्षोल्लास के साथ मनाई जा रही है। मान्यता है कि भगवान गौतम बुद्ध का जन्‍म वैशाख महीने की पूर्णिमा को लुम्बिनी में हुआ था जो इस समय नेपाल में है। इसके अलावा गाैतम बुद्ध ने वैशाख पूर्णिमा के दिन ही कुशीनगर में देह त्याग किया था। यह त्योहार हिंदू और बौद्ध दोनों धर्मों के लोगों के लिए खास है। इस दिन बुद्ध के अलावा चंद्र देव और भगवान विष्णु की भी पूजा-अर्चना की जाती है।

बजाज महाधमाका ऑफर

गाैतम बुद्ध ने 29 वर्ष की आयु में अपना परिवार छोड़ दिया और मानव पीड़ा को देखकर आत्मज्ञान की ओर अपना मार्ग शुरू किया। उन्होंने बोधि वृक्ष के नीचे 49 दिन तक कठोर तपस्या करके ज्ञान प्राप्त किया। वहीं कई हिंदू मानते हैं कि बुद्ध भगवान विष्णु के नौवें अवतार हैं।

बुद्ध पूर्णिमा

बुद्ध पूर्णिमा के दिन मांस और शराब जैसे तामसिक खाद्य पदार्थों से परहेज किया जाता है और अनुयायी सफेद कपड़े पहनना पसंद करते हैं। यह त्योहार एशियाई देशों जैसे जापान, चीन, इंडोनेशिया, मलेशिया, नेपाल, फिलीपींस और भारत सहित अन्य देशों में विशेष रूप से मनाया जाता है। बुद्ध पूर्णिमा को वैशाख पूर्णिमा और सत्य विनायक पूर्णिमा भी कहते हैं।

बुद्ध पूर्णिमा

मान्यताओं के अनुसार, बुद्ध पूर्णिमा के दिन भगवान विष्णु की पूजा-अर्चना करने के बाद दान-पुण्य करने का विशेष महत्व होता है। कहा जाता है कि ऐसा करने से जीवन में मौजूद कष्ट व दुख खत्म हो जाते हैं। साथ ही जाने-अनजाने में किए गए पापों से भी मुक्ति मिलती है।

सीएम नीतीश

शास्त्रों के मुताबिक, बुद्ध पूर्णिमा के दिन सत्यविनायक व्रत रखना अत्यंत फलदायी होता है। इसका कारण यह है कि सत्यविनायक व्रत रखने से धर्मराज यमराज प्रसन्न होते हैं तथा व्रत करने वाले व्यक्ति के ऊपर से अकाल मृत्यु का ख़तरा टलता है इसीलिए इस दिन सफेद वस्तुएं जैसे कि चीनी, सफेद तिल, आटा, दूध, दही, खीर आदि दान करना शुभ माना जाता है।

बुद्ध पूर्णिमा

वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुद्ध पूर्णिमा के पावन अवसर पर प्रदेश एवं देशवासियों को अपनी हार्दिक बधाई एवं शुभकामनायें दी हैं। मुख्यमंत्री ने अपने शुभकामना संदेश में कहा है कि भगवान बुद्ध का जीवन हर किसी के लिये प्रेरणादायी है। उनके जीवन दर्शन से हमें प्रेम, शांति, सद्भाव, त्याग, अहिंसा एवं संयम जैसे गुणों को अपनाने की प्रेरणा मिलती है।

सीएम ने बधाई देते हुए कहा कि भगवान् बुद्ध का जीवन हम सभी के लिए आदर्श है। भगवान बुद्ध के बताये हुये अष्टांगिक मार्ग पर चलकर मनुष्य सम्यक और संतुलित जीवन यापन करने में सक्षम हो सकता है। उन्होंने कामना की है कि भगवान बुद्ध की शिक्षा को आत्मसात कर हम आपसी प्रेम और सद्भाव की भावना और मजबूत करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.