Bihar Nation
सबसे पहले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

सीएम नीतीश विधानसभा में विपक्ष पर गुस्से से हो गए लाल, देखिए, उनका रौद्र रूप

0 481

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन:बिहार में बुधवार को सदन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गुस्से से उस समय भड़क गए जब विपक्षी नेताओं ने शराब बंदी पर सवाल उठाना शुरू कर दिया। लेकिन यह सीएम नीतीश कुमार को रास नहीं आया। और वे विधानसभा में विपक्ष पर बुरी तरह भड़कते दिखे. . . 

. . . . शराबी हो गए तुम लोग? तुम ही लोग गड़बड़ करवा रहे हो. सबको भगाओ यहाँ से ।.पूरी तरह से बर्बाद होगे, कैसे जीते हो?” यह कहना है बिहार विधानसभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का।

दरअसल बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजय कुमार सिन्हा सारण ज़िले में ज़हरीली शराब से हुई मौतों को लेकर सवाल उठा रहे थे. अब तक की ख़बर के मुताबिक़ सारण ज़िले में ज़हरीली शराब पीने से दस लोगों की मौत हुई है और कई लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया है।

ख़बर के अनुसार, सारण ज़िले के डोयला गाँव में मंगलवार की शाम 15 से ज़्यादा लोगों ने शराब पी थी। कुछ ही घंटों में इन्हें उल्टियां होने लगीं और बेहोश होने लगे। बाद में इन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया।

इसे लेकर बिहार विधानसभा में काफ़ी हंगामा हुआ। बीजेपी ने विधानसभा में कहा कि नीतीश कुमार की शराबबंदी नीति बुरी तरह से नाकाम रही है।कांग्रेस ने भी शराबबंदी की समीक्षा की मांग की है। विधानसभा में दिख रहा है कि नीतीश कुमार विजय सिन्हा की तरफ़ उंगली उठाते हुए बोल रहे हैं- अरे तुम बोल रहे हो…

नीतीश कैबिनेट में मंत्री रहे और आरजेडी विधायक सुधाकर सिंह ने भी शराबबंदी का विरोध किया है। उन्होंने कहा कि किसी भी खाद्य सामग्री और पेय पर प्रतिबंध मानसिक दिवालियापन का सबूत है।

सुधाकर सिंह ने कहा, ”आप प्रतिबंध नहीं लगा सकते. आप जागरूकता के ज़रिए लोगों को समझा सकते हैं कि शराब सेहत के लिए हानिकारक है।” सुधाकर सिंह कृषि मंत्री थे और उन्हें अपने बयान के कारण इस्तीफ़ा देना पड़ा था।

नीतीश कुमार का कहना था कि उन्होंने शराबबंदी का फ़ैसला बीजेपी के साथ रहते हुए लिया था और अब बीजेपी वाले अलग होने के बाद विरोध कर रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.