Bihar Nation
सबसे पहले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

बिहार में कोहरे का कहर जारी, ठंड और ठिठुरन से घरों में दुबके लोग, औरंगाबाद में अब 07 जनवरी तक बंद रहेंगे सभी शिक्षण संस्थान

0 191

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार में सर्दी का सितंब जारी है। घने कोहरे और शीतलहर के बीच नये साल में भी लोगों घरों के अंदर दुबके हुए हैं।वहीं इसे लेकर लगातार औरंगाबाद जिला प्रशासन भी इसपर कड़ी नजर रखे हुए है। शीतलहर को देखते हुए औरंगाबाद जिलाधिकारी अब सरकारी एवं प्राइवेट सभी प्राइमरी और हायर स्कूलों को बंद करने के आदेश जारी कर दिये हैं।

लोजपा नेता. . .

दरअसल औरंगाबाद जिले में बढ़ते ठंड के कारण शीतलहर को देखते हुए जिलाधिकारी, श्री सौरभ जोरवाल द्वारा जिले के सभी सरकारी एवं निजी प्राथमिक, माध्यमिक एवं उच्च विद्यालयों(बारहवीं कक्षा तक) तथा कोचिंग संस्थानों में शिक्षण कार्य बंद रखने के आदेश को दिनांक 02 जनवरी 2023 से 07 जनवरी 2023 तक विस्तारित कर दिया गया है।

वीपीआई नेता

आपको बता दें कि औरंगाबाद जिले में ही नहीं बल्कि पुरे बिहार में शीतलहर का प्रकोप जारी है। एक तरफ जहां नए साल के जश्न में पूरा देश डूबा है, वहीं ठंड और कंपकंपी ने बिहार के लोगों के जश्न में विघ्न डालने का काम किया है। बिहार में पहाड़ों से आ रही बर्फीली हवा और पछुआ हवा के प्रवाह ने लोगों को घरों में दुबकने पर मजबूर कर दिया है। बिहार के कई जिलों में घने कोहरे की वजह से सूर्य के प्रकाश से भी लोग वंचित हैं और यहां विजिबिलिटी भी 150 मीटर से कम हो गई है।

मदनपुर प्रखंड प्रमुख

बिहार के गया, औरंगाबाद, पटना, मुजफ्फरपुर, भागलपुर और पूर्णिया समेत कई जिलों में कोहरे का सितम ऐसा कि लोग कम दृष्टता की वजह से सड़कों पर उतरने से घबराने लगे हैं। मौसम विभाग की मानें तो अगले 24 से 48 घंटे के भीतर प्रदेश में कुहासा और बढ़ेगा ऐसे में लोगों को हाड़ कंपा देनेवाली ठंड से निजात मिलना संभव नहीं है।

पूर्व मुखिया

ऐसे में इस बढ़ते कोहरे और साथ में चलती ठंडी हवाओं की वजह से गलन और ठिठुरन बढ़ गई है। कोहरे के तेज प्रसार की वजह से यातायात प्रभावित हो रहा है। मौसम विभाग के अनुसार बिहार अभी निम्न उंचाई वाले पछुआ और उत्तर पछुआ हवा की चपेट में है। वहीं राज्य के कुछ हिस्से पूर्वी और दक्षिण पूर्वी हवा के चपेट में भी हैं। ऐसे में यहां हवा में नमी ज्यादा है और इसका सीधा असर देखने को मिल रहा है।

बिहार में पिछला 24 घंटा लोगों की हाड़ कंपाती ठंड के नाम रहा और इससे निजात की अभी संभावना दिखाई नहीं दे रही है, गया बिहार के सबसे ठंडे जिले में से रहा है जहां सबसे कम न्यूनतम तापमान 6.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। जबकि बिहार के अन्य जिलों में यूनतम तापमान 8 से 10 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया है।

स्कूल बंद करने का आदेश

वहीं मौसम विभाग ने यह भी कहा है कि अभी इस ठंड से राहत नहीं मिलनेवाली है। मौसम विभाग पटना की मानें तो बिहार में पटना, गया, पूर्णिया और भागलपुर में कोहरे की वजह से दृश्यता में कमी अभी जारी रहेगी। वहीं राजधानी पटना भी ठंड के चपेट में है। यहाँ न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस आंका गया है। जबकि अधिकतम तापमान 19.7 डिग्री सेल्सियस आंका गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.