Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

शेल्टर होम से भागी पीड़िता ने कहा- नशे का इंजेक्शन देकर देह व्यापार करवाती है अधीक्षक वंदना गुप्ता

0 466

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन:  बिहार में एक बार फिर से बालिका रक्षा गृह चर्चा में है। इस बार भी वही मामला है जो मुजफ्फरपुर बालिका रक्षा गृह में हुआ था। परंतु इस बार मामला राजधानी से जुड़ा है जहाँ पटना के गायघाट स्थित शेल्टर होम (बालिका रक्षा गृह) से लड़कियों को सप्लाई किया जाता था। इस मामले में उत्तर रक्षा गृह से निकली एक लड़की ने अधीक्षक वंदना गुप्ता पर गंभीर आरोप लगाए हैं। लडकी का कहना है कि रक्षा गृह की अधीक्षक लडकियों को नशे का इंजेक्‍शन देकर अवैध कारोबार में जाने को मजबूर करती हैं।

लड़की ने कहा है कि विरोध करने पर बालिका रक्षा गृह में लड़कियों को भूखे रखा जाता है। बाहर निकलने के बाद लड़की किसी भी हाल में उत्तर रक्षा गृह वापस जाने को तैयार नहीं है? लड़की का कहना है कि यहां रह रही लड़कियों में से जो लड़की अनैतिक काम में साथ नहीं देती उसे प्रताड़ित किया जाता है । वहीं इस लड़की का वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। उत्तर रक्षा गृह से निकली इस लड़की को लेकर एक संस्था थाने पहुंची थी।

वहीं, लडकी की तरफ से आरोप लगाए जाने के बाद सरकारी महकमे में हड़कंप की स्थिति है। लड़की आरोप लगा रही है उत्तर रक्षा गृह में एक बांग्लादेशी महिला को मरने के लिए मजबूर कर दिया गया। कई बार फर्जी परिजन बनाकर पैसे लेकर महिलाओं और लड़कियों को भेज दिया जाता है। लड़की ने आरोप लगाया है कि लड़कियों को जॉब के बहाने बाहर भेजा जाता है। इस संबंध में समाज कल्याण विभाग के निदेशक के राजकुमार ने कहा है कि पूरे मामले की जांच की जा रही है और जांच के बाद ही आगे कुछ कहा जाएगा। यहां बता दें कि उत्तर रक्षा गृह गायघाट में 255 पीड़िताएं रह रही हैं

साथ ही आपको यह भी बता दें कि यूट्यूब चैनल लाइव बिहार के पत्रकार अक्षय आनंद को वहाँ से किसी तरह बचकर बाहर आई लड़की ने इंटरव्यू में बताया कि वह नहीं चाहती है कि जो मेरे साथ हुआ वह वहां रह रही अन्य लड़कियों के साथ हो । इसलिए वह इस मामले में  कड़ी कारवाई की मांग करती है। इसके लिए वह कानूनी प्रक्रिया में साथ देने को तैयार हैं । उसने अपनी सारी व्यथा इंटरव्यू में कही । उसने स्वयं कई बार आत्महत्या  करने के प्रयास की भी बात स्वीकार की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.