Bihar Nation
सबसे पहले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

औरंगाबाद में दो शिक्षकों के बीच खूब हुई मुक्का-मुक्की, अब डीईओ के पास गया शिकायत, जांच के बाद होगी कारवाई

0 5,533

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार में लगातार शिक्षा व्यवस्था को सुधारने के प्रयास नीतीश सरकार द्वारा की जा रही है। यहाँ तक की शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक ने ऐसी लगाम लगाई है कि स्कूलों में छात्रों की उपस्थित भी बढ़ गई है। वहीं अब शिक्षक भी समय पर स्कूल आने लगे हैं। लेकिन कभी-कभी कुछ ऐसा कारनामा शिक्षकों के द्वारा किया जाता है कि शिक्षा विभाग को शर्मिंदगी झेलनी पड़ती है। एक ऐसा ही मामला इन दिनों औरंगाबाद का सुर्खियों में है।

दरअसल, इन दिनों सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर एक वीडियो बड़ी तेजी से वारयल हो रहा है। जिसमें दो शिक्षक बच्चों के सामने ही गुत्थम गुत्थी कर रहे हैं। बता दें कि यह मामला नबीनगर प्रखंड के बारा तेतरिया स्कूल का है। जिसमें एक की पहचान उत्क्रमित मध्य विद्यालय बारा तेतरिया के प्रभारी प्रधानाध्यापक सतीश मिश्रा तथा दूसरे शिक्षक की पहचान उसी विद्यालय के शिक्षक धर्मेंद्र कुमार सिंह के रूप में की है। हालांकि इस संदर्भ में सतीश कुमार मिश्रा ने जिला शिक्षा पदाधिकारी को पत्र लिखकर धर्मेंद्र कुमार सिंह पर अनुशासनहीनता की शिकायत दर्ज कर कारवाई करने की मांग की है।

प्रभारी प्रधानाध्यापक ने आवेदन में लिखा है कि शिक्षक धर्मेंद्र कुमार सिंह विद्यालय का शैक्षणिक एवं प्रशासनिक माहौल बिगाड़ रहे हैं । मामले के बारें में जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि 20 सितंबर को अर्धवार्षिक मूल्यांकन परीक्षा के संचालन के दौरान धर्मेंद्र कुमार सिंह ने एक छात्रा का प्रश्न पत्र तथा मूल्यांकन पत्र छीन लिया गया। जिसके बाद उन्होंने प्रभारी प्रधानाध्यापक होने के नाते हमने अपने शिक्षक को मूल्यांकन पत्र लौटने का आग्रह किया लेकिन वह नहीं लौटाए और मारपीट की। उन्होंने आरोप लगाया है धर्मेंद्र कुमार स्थानीय हैं इसलिए ऐसा व्यवहार करते हैं।

उन्होंने जिला शिक्षा पदाधिकारी को यह भी जानकारी दी है कि पूर्व में इनके द्वारा एक महिला शिक्षिका से नक्सली के नाम पर लेवी भी ली गई थी और शिक्षिका की शिकायत पर आरोप सही पाए जाने पर जेल की हवा भी खानी पड़ी थी।

वहीं इस मामले में जिला शिक्षा पदाधिकारी संग्राम सिंह ने उचित कारवाई की बात जांच के बाद करने की कही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.