Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

पटना में 334 करोड़ की लागत से बन रहे एपीजे अब्दुल कलाम साइंस सिटी की ये हैं खूबियां,जानें

0 148

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: वैसे तो बिहार का इतिहास हमेशा से भारत के पटल पर गौरवशाली रहा है। यहाँ की धरती पर कई महापुरुषों ने जन्म लिया और दिव्य प्रकाश की ज्योति से पुरे विश्व को प्रकाशमान किया है। अब एक फिर से यह राज्य अपने पुराने गौरव को पाने के लिये कोशिश में जुट गया है। राजधानी पटना के राजेन्द्र नगर में मोइनउल हक स्टेडियम के पास साइंस सिटी का निर्माण किया जा रहा है।


इसका नाम मिसाइल मैन और भारत के पूर्व दिवंगत राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के नाम पर रखा गया है। साइंस सिटी के निर्माण कार्य का निरीक्षण करने बिहार के साइंस टेक्नोलाजी मंत्री सुमित सिंह पहुंचे और उन्होंने निर्माण कार्य के एक एक काम को बारीकी से देखा और कई ज़रूरी निर्देश भी दिए।सुमित सिंह ने साइंस सिटी की खूबियों के बारे में बताया कि क्यों ये साइंस सिटी बिहार के लिए महत्वपूर्ण है।

सुमित सिंह की मानें तो यह साइंस सिटी पूरे देश में अनूठा होगा। लगभग 334 करोड़ की लागत से इसका निर्माण होना है। इसका उद्देश्य है बिहार की आवाम में वैज्ञानिक दृष्टिकोण का प्रसार और बिहार के वैज्ञानिक धरोहरों का संरक्षण करना भी है। सुमित सिंह ने बताया कि इसका निर्माण मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और कलाम साहब की परिकल्पना का साकार स्वरूप है।

मंत्री सु्मित सिंह ने बताया कि विज्ञान से जुड़े मसलों के प्रति मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का रुझान सब जानते हैं। महानतम खगोलविद आर्यभट्ट के प्रति उनकी आस्था भी सर्वविदित है। तारेगना को राष्ट्रीय फलक पर लाने एवं आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय की स्थापना के जरिये उन्होंने इसको दिखाया भी है।

आपको बता दें कि भारत के दिवंगत राष्ट्रपति और मिसाइल मैन के नाम से मशहूर एपीजे अब्दुल कलाम के नाम पर साइंस सिटी 15 एकड़ और 32 हजार वर्ग फीट में बन रहा है। इसका उद्देश्य है कि बिहार के बच्चे और युवा विज्ञान के अत्याधुनिक विधा की जानकारी से अवगत हो और उनमें विज्ञान के प्रति रूचि पैदा की जाय्।

Leave A Reply

Your email address will not be published.