Bihar Nation
सबसे पहले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

मकर संक्रांति के बाद उपेंद्र कुशवाहा कर सकते हैं, जेडीयू में पार्टी का विलय

बिहार का राजनीतिक घटनाक्रम तेजी से बदल रहा है। लोगों ने सोचा था कि विधानसभा चुनाव खत्म हो गया है तो अब राजनीतिक उठा -पटक भी खत्म हो जाएगा। 

0 159

BIHAR NATION : बिहार का राजनीतिक घटनाक्रम तेजी से बदल रहा है। लोगों ने सोचा था कि विधानसभा चुनाव खत्म हो गया है तो अब राजनीतिक उठा -पटक भी खत्म हो जाएगा।  लेकिन ऐसा हुआ नहीं । अब खबर है कि एक बार फिर से बिहार की राजनीति में मकर संक्रांति के बाद भारी उठापटक हो सकता है। चर्चा है कि उपेंद्र कुशवाहा अपने पार्टी रालोसपा का विलय जदयू में कर देंगे। इसको लेकर पूरी तैयारी भी की जा चुकी है। हालांकि अभी तक दोनों में से किसी भी पार्टी ने इसकी अधिकारिक पुष्टि नहीं की है।

वहीं उपेंद्र कुशवाहा राजद नेता तेजस्वी यादव के खिलाफ लगातार मोर्चा खोलेते जा रहे हैं। इसबार विधानसभा के चुनाव में उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी रालोसपा बिहार के चुनाव में एक भी सीट नहीं जीत पाई । सूत्रों के मुताबिक बिहार विधानसभा चुनाव में मन मुताबिक सफलता नहीं मिलने के कारण जदयू अब अगले चुनाव की तैयारी में जुट गई है। इसके कारण पार्टी बिहार में पिछड़े और अकलियत नेताओं को साधने में लगी है। पार्टी इसी रणनीति के तहत उपेंद्र कुशवाहा को अपने पार्टी में शामिल कराएगी।

आपको बता दें कि राज्य में लोकसभा, विधानसभा व राज्यसभा की सभी सीटें भर चुकी है। ऐसे में सिर्फ विधान परिषद की 18 सीटें खाली हैं, जिनमें 12 मनोनयन कोटे की और दो विधानसभा कोटे की सीटें हैं। चार स्थानीय प्राधिकार कोटे की सीटें हैं। अब चर्चा है कि जेडीयू उपेंद्र कुशवाहा को मनोयन कोटे से बिहार विधानपरिषद में भेज सकती है। बताया जा रहा है कि इसे लेकर ही उपेंद्र कुशवाहा लगातार नीतीश कुमार के संपर्क में भी हैं ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.