Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

औरंगाबाद: आखिरकार जिंदगी की जंग हार गये सब इंस्पेक्टर वीरेंद्र पासवान, बेटी की डोली से पहले उठ गई अर्थी 

0 574

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: आखिरकार दाउदनगर थाना के सब इंस्पेक्टर वीरेंद्र पासवान को नहीं बचाया जा सका । उन्होंने रविवार को पटना के एक निजी हॉस्पिटल में दम तोड़ दिया । जैसे ही यह खबर उनके थाने के पुलिस वालों और उनके गांव में पहुंची मातम छा गया । परिवार वालों का रो-रोकर बुरा हाल है। बता दें कि उनके पुत्री की 16 फरवरी को रोहतास जिले के शिवसागर थाना के सोनडिहरा गांव में घर पर बेटी की बारात आने वाली थी। जबकि 9 फरवरी को ही तिलक था। लेकिन ईश्वर को कुछ और ही मंजूर था। बेटी की डोली उठने से पहले ही उनकी अर्थी उठ गई ।

इसी से घायल हुए थे दारोगा

मालूम हो कि सब इंस्पेक्टर वीरेंद्र पासवान दाउदनगर के नानू बिगहा बालू घाट पर हुए लूट और मुंशी की हत्या के मामले के एक आरोपी को गिरफ्तार करने 27 जनवरी को शमशेरनगर पीड़ी पर गये थे। उन्होने आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया था पर वापसी में अचानक आरोपी के समर्थकों ने पुलिस की टीम पर जानलेवा हमला कर आरोपी को पुलिस के कब्जे से छुड़ा लिया।

इस हमले में सब इंस्पेक्टर वीरेंद्र पासवान बुरी तरह घायल हो गये थे। बाद में दाऊदनगर के एक निजी हॉस्पिटल से पटना के पारस हॉस्पिटल में एडमिट किया गया था। लेकिन नहीं बचाया जा सका।

वीरेंद्र पासवान  बेटी की शादी के लिए छुट्टी लेकर घर जाने वाले थे। छुट्टी के लिए उन्होने विभाग में आवेदन भी कर रखा था। छुट्टी भी स्वीकृत हो गई थी। 9 फरवरी को तिलक जाने वाली थी और 16 फरवरी को बारात आनी थी, पर बेटी की डोली उठने से पहले पिता की अर्थी उठ गई। अनहोनी हो गई। अब सर्वत्र मातम पसरा है।

आपको बता दें कि शादी की तारीख नजदीक आने के कारण उन्होंने छुट्टी के लिए विभाग में आवेदन भी दे रखा था। यहाँ तक की उनकी छुट्टी भी स्वीकृत हो गई थी। लेकिन बेटी की शादी के पहले ही पिता की अर्थी उठ गई ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.