Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

उमा भारती का एलान, 2024 में लड़ूगी लोकसभा का चुनाव, फैसले से तीन बीजेपी सांसदों की बढ़ी धड़कन

0 137

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: इस वक्त राजनीतिक गलियारे बड़ी दिलचस्प खबर आ रही है। खबर है कि बीजेपी की तेज तर्रार नेत्री और मध्यप्रदेश की पूर्व सीएम उमा भारती लोकसभा का अगला चुनाव लड़ेगी। उन्होंने इसका एलान भी कर दिया है। लेकिन वह कहां से चुनाव में आएंगी यह अभी नहीं बताई हैं । लेकिन उनके इस एलान से तीन लोकसभा सीटों पर कशमकश की स्थिति पैदा होने की संभावना है। ये सीटे हैं भोपाल, खजुराहो और झांसी हैं। हालांकि इससे पहले 2019 का चुनाव उन्होंने नहीं लड़ी थी। लेकिन 2024 के लोकसभा चुनाव में उनके उतरने की घोषणा से कई नेताओं की साँस थम गई है।

भारती की चुनाव लड़ने की मंशा से सबसे ज्यादा संकट की स्थिति खजुराहो और भोपाल लोकसभा सीट के मौजूदा सांसदों के लिए पैदा हो सकती है, क्योंकि खजुराहो भारती का पसंदीदा क्षेत्र है तो भोपाल से भी वो 1999 में सांसद रह चुकी हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में भोपाल में प्रज्ञासिंह को कट्टरवादी छवि के लिए दिग्विजय सिंह के सामने उतारा गया था। अब केन-बेतवा लिंक परियोजना की मन्नत पूरी होने पर छतरपुर के गंज गांव के एक हनुमान मंदिर में पूजा-पाठ करने के बाद पूर्व सीएम भारती ने खुलकर चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है।

उमा भारती के चुनाव लड़ने के ऐलान से खजुराहो सीट पर ज्यादा असर पड़ेगा। भारती यहां से लगातार चार बार प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं। खजुराहो के बाद उमा की पसंद की दूसरी सीट राजधानी भोपाल है। यह सीट उनके लिए भाग्यशाली रही है। उमा भारती 1999 में यहीं से सांसद बनी और अटलबिहारी बाजपेयी की सरकार में मंत्री भी रहीं। उनके आने से अब आनेवाले समय में प्रज्ञा ठाकुर को किसी और सीट पर जाकर चुनाव लड़ना होगा। राजनीतिक जानकारों का मानना है कि उमा भारती के लिए तीसरे विकल्प के रूप में झांसी लोकसभा सीट भी हो सकती है। यहां से वे 2014 में लोकसभा सदस्य भी रह चुकी हैं।

आपको बता दें कि उमा भारती लोध समुदाय से आती हैं। लोध समुदाय को बीजेपी का परंपरागत वोट बैंक माना जाता रहा है। उमा भारती बाबरी आंदोलन का प्रमुख चेहरा रही हैं और 1992 में जब बाबरी मस्जिद गिराई गई तो उस समय वे मंच पर बीजेपी के बड़े नेताओं के साथ मौजूद थीं। उमा भारती का उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के बुंदेलखंड इलाके में अच्छा प्रभाव है। उमा भारती ने 2003 के चुनाव में बीजेपी को मध्य प्रदेश में सत्ता दिलाई थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.