Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

औरंगाबाद: अबतक 75 प्रतिशत धान की खरीद का लक्ष्य हुआ पूरा,जानें किस प्रखंड में कितनी हुई धान की खरीदारी

0 438

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: औरंगाबाद जिले अंतर्गत धान की खरीद 74. 22 प्रतिशत तक हो चुकी है। इसकी जानकारी जिला के सहकारिता पदाधिकारी ने दी है। उन्होंने बताया कि कुल दो लाख 50 हजार मैट्रिक टन धान खरीद का लक्ष्य रखा गया है जिसमें से अबतक 01 लाख 86 हजार 557 मैट्रिक टन धान की खरीद हो चुकी है।

उन्होंने बताया कि प्रत्येक दिन तकरीबन चार हजार मैट्रिक टन की धान की खरीद जारी है। जिले में पैक्स और व्यापार मंडल के द्वारा धान की खरीद की जा रही है। लक्ष्य के 90 प्रतिशत धान की खरीद करने वाली 26 समितियों को 25 प्रतिशत अधिक अधिक प्राप्ति की अनुमति दी गई है। उन्होंने यह भी बताया कि अधिप्राप्ति की प्रक्रिया में गड़बड़ी करने वाली समितियों पर जांच कर नियमानुसार कार्रवाई भी की जा रही है।

सदर प्रखंड के बेला पैक्स के विरुद्ध अनियमितता की सूचना के आलोक में लक्ष्मी वृद्धि संबंधी निर्णय स्थगित कर दिया गया है। शेष बचे किसानों की धान अधिप्राप्ति के लिए व्यापार मंडल औरंगाबाद को अतिरिक्त लक्ष्य आवंटित किया गया है। इसी तरह सदर प्रखंड के नौगढ़ पैक्स से भी अनियमितता की बात सामने आई है। इस आलोक में निर्णय लिए जाने तक इस पैक्स के धान खरीद पर रोक लगा दी गई है। गोह प्रखंड के गोह पैक्स में धान अधिप्राप्ति में अनियमितता के आलोक में स्पष्टीकरण किया गया है। इस पर अंतिम निर्णय लिया जाएगा।

इसी तरह औरंगाबाद प्रखंड में 15 हजार 966 मेट्रिक टन, बारुण प्रखंड में 16 हजार 511 मेट्रिक टन, दाउदनगर प्रखंड में 17 हजार 941 मेट्रिक टन, देव प्रखंड में 11 हजार 558 मेट्रिक टन, गोह प्रखंड में 16 हजार 621 मेट्रिक टन, हसपुरा प्रखंड में 15 हजार 400 मेट्रिक टन, कुटुंबा प्रखंड में 17 हजार 773 मेट्रिक टन, मदनपुर प्रखंड में 9 हजार 991 मेट्रिक टन, नवीनगर प्रखंड में 19 हजार 387 मेट्रिक टन तथा रफीगंज प्रखंड में 22 हजार 355 मेट्रिक टन धान की खरीद की गई है।

मालूम हो कि धान की सबसे अधिक 23 हजार 90 मेट्रिक टन की खरीद ओबरा प्रखंड में हुई है। वहीं कई प्रखंडों में धान अधिप्राप्ति में अनियमितता की शिकायत मिली थी। जिसे लेकर सभी सहकारिता प्रसार पदाधिकारियों को यह निर्देश दिया गया है कि किसानों से धान खरीद के बाद उन्हें पावती रसीद अवश्य मिले।

Leave A Reply

Your email address will not be published.