Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

आमस: नारायणपुर गांव में बिजली करंट के चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौत, ग्रामीणों ने किया सड़क जाम

0 243

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट 

बिहार नेशन: शुक्रवार की रात्रि में औरंगाबाद-गया जिले के सीमा पर स्थित आमस थाना अंतर्गत रामपुर पंचायत के ग्राम नारायणपुर में बिजली के करंट की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। मृतक देवेंद्र सिंह ,पिता स्वर्गीय धर्म देव सिंह के पुत्र थे। मृतक गया जिले के नारायणपुर निवासी के पांच भाईयों में चार की मौत हो गई। अब बस एक भाई बचे हैं। इस घटना के बाद मृतक के परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है। घटना के बाद मृतक की पत्नी नीलम देवी पर बच्चों की परवरिश का बोझ आ गया है। मृतक की पत्नी के अलावा इस परिवार में कोई अन्य सहारा नहीं रहा । मृतक के चार लड़की तथा एक पुत्र हर्ष कुमार है जिसकी उम्र लगभग 13 साल है।

वहीं इस घटना के बाद मौके पर पहुंचे पंचायत के पूर्व मुखिया एवं वर्तमान में अकौना पंचायत से पंचायत समिति सदस्य पहाड़पुर निवासी वीरेंद्र यादव ने मृतक के परिजनों को कबीर अंत्येष्टि योजना से राशी दिलवाया और ब्लॉक स्तर पर भी जो राशी मिलती है वह दो-चार दिन में प्रक्रिया के तह्त राशी दिलाने की बात कही। उन्होंने ग्रामीणों द्वारा किये गये सड़क जाम को भी समझा-बुझाकर हटवाया। उन्होंने कहा कि यह बिजली विभाग की लापरवाही है। इसकी जांच होनी चाहिए और दोषियों पर कारवाई होनी चाहिए। उन्होंने जिला प्रशासन से मृतक के परिजनों को समुचित मुआवजा देने की मांग की।

आपको बता दें कि ग्राम नारायणपु विद्यालय के समीप ट्रांसफार्मर से ग्राम ढिबरा जाने वाला 440 वोल्ट का तार टूट कर गिरा हुआ था। संध्या 7:00 बजे के आसपास मृतक शौच के लिए बाहर गए थे और गिरी हुई बिजली की तार के चपेट में आ गये जिससे उनकी मृत्यु हो गई।

वे घंटों तक जब घर वापस नहीं आए तो रात्रि 9:00 बजे करीब घर के लोगों ने खोजबीन शुरू की। खोजबीन के क्रम में घटनास्थल पर पहुंचने के बाद देखा कि बिजली तार के चपेट में आ गए हैं और उनकी मृत्यु हो गई है। गांव के युवकों की सूझबूझ से तत्काल फ्यूज निकालकर लाइन काटा गया।

जबकि रात्रि 11:00 बजे के आसपास तत्काल आमस हॉस्पिटल पहुंचाया गया जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया और यहां से पोस्टमार्टम के लिए गया मगध मेडिकल, गया भेज दिया। हॉस्पिटल के द्वारा स्थानीय थाना में सूचना दे दी गई थी। थाना ने तत्काल अस्पताल पहुंचकर मामले को संज्ञान मे लिया ।

ज्ञात हो कि नारायणपुर गांव में गड़ा हुआ सीमेंट इलेक्ट्रिक पोल  में 4 दिन से करंट आ रहा है। जिसकी सूचना ग्रामीणों के द्वारा आमस बिजली विभाग को अनेक बार दी गई । यहां के वार्ड सदस्य प्रतिनिधि  धीरज कुमार सिंह उर्फ मुन्ना द्वाराआमस बिजली विभाग को अनेक बार सूचना दी गई। लेकिन सूचना को गंभीरता से विभाग द्वारा नहीं लिया गया। परिणामत: इतनी बड़ी हादसा हो गई।

इस मौके पर वार्ड सदस्य प्रतिनिधि धीरज कुमार सहित श्याम लायक सिंह, बबन कुमार सिंह, सुधीर कुमार, महेंद्र सिंह, संजय सिंह, राहुल कुमार के अलावे ग्रामीणों ने बिजली विभाग की लापरवाही पर आक्रोश प्रकट करते हुए संबंधित बिजली कर्मी पर अपराधिक मामला दर्ज करनें तथा मृतक के परिवार को समुचित मुआवजा देने की मांग की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.