Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

औरंगाबाद: स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत 5 स्वास्थ्य संस्थानों को मिला कायाकल्प पुरस्कार

इस वक्त औरंगाबाद जिले से बड़ी खबर सामने रही है. स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत स्वास्थ्य संस्थानों के लिए कायाकल्प पुरस्कार कार्यक्रम वर्ष 2020 की सूची जारी कर दी गई है

0 36

बिहार नेशन: इस वक्त औरंगाबाद जिले से बड़ी खबर सामने रही है. स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत स्वास्थ्य संस्थानों के लिए कायाकल्प पुरस्कार कार्यक्रम वर्ष 2020 की सूची जारी कर दी गई है. इसके लिए बिहार के औरंगाबाद जिले से पांच स्वास्थ्य संस्थानों को सराहना पुरस्कार दिया गया है. मालूम हो कि यह पुरस्कार राज्य स्वास्थ्य समिति के द्वारा दिया जाता है.

इस मौके पर DPM डॉक्टर कुमार मनोज ने खुशी जाहिर की . उन्होंने खुशी जाहिर करते हुए बताया कि जिले के पांच संस्थानों में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, देव, रफीगंज, मदनपुर, बारुण एवं शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, औरंगाबाद का नाम शामिल है. बता दें कि इन चयनित संस्थानों को पुरस्कार स्वरूप सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों को 1 लाख रूपये तो वहीं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को पचास हज़ार रूपये दिए जायेंगे.

इस पुरस्कार के मिलने से सभी स्वास्थ्य कर्मियों सहित जिलास्तरीय पदाधिकारीगणों में खुशी की लहर है. कोरोना महामारी के बीच पुरस्कार मिलना अपने संस्थान के लिए गर्व की बात होती है जहाँ कर्मचारी कार्य करते हैं. मिली प्रतिक्रिया से पता चलता है कि इस पुरस्कार के लिए सफलता का श्रेय जिला स्तरीय टीम एवं मुख्य रूप से नेतृत्वकर्ता डीपीएम डॉ कुमार मनोज को जाता है. जबकि डीपीएम डॉ कुमार मनोज इसका श्रेय पूरी टीम को दे रहे हैं.

डीपीएम डॉ कुमार मनोज ने बताया कि इस सफलता के पीछे संस्थानों के प्रबंधक, चिकित्सक एवं कर्मियों की मुख्य भूमिका रही है. उन्होंने कहा कि प्रयास रहेगा कि अगले वर्ष भी यह पुरस्क्कार हमलोगों के संस्थान को मिले. मालूम हो कि ये संस्थान पहले भी ये पुरस्कार प्राप्त करते रहे हैं.

वहीं आपको बता दे कि औरंगाबाद के सदर अस्पताल को सराहना पुरस्कार जबकि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, मदनपुर एवं रफीगंज को प्रथम पुरस्कार तथा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, बारुण को रनर अप पुरस्कार मिल पहले भी चुका है. वहीं इस राशी को इसके दिशा निर्देशों के अनुसार 25 प्रतिशत अस्पतालों के स्टाफ को नगद देना है जबकि 75 प्रतिशत राशी अस्पताल के विकास कार्य में लगाना है.

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.