Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

औरंगाबाद: पुलिस ने किया रामनवमी को लेकर सुरक्षा के कड़े प्रबंध, वर्ष 2018 की घटना से मिला सबक

0 134

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: देश भर में रामनवमी को लेकर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किये गये हैं ताकि असमाजिक तत्वों से सख्ती से निपटा जा सके। वहीं इसे लेकर बिहार के औरंगाबाद जिले से भी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम होने की खबर आ रही है। यह जिला संवेदनशील माना जाता है। जिले में इसे लेकर पुलिस ने फ़्लैग मार्च भी निकाला। साथ ही नक्सली क्षेत्रों और अन्य संवेदनशील इलाकों में पुलिस की गश्ती बढ़ा दी गई है।

डिवाईन पब्लिक स्कूल

रामनवमी को लेकर पुलिस अधीक्षक कांतेश कुमार मिश्र ने बताया कि पूरे जिले में एक सौ से अधिक स्थानों पर दंडाधिकारी के नेतृत्व में सशस्त्र पुलिस बल की तैनाती की गई है और मोटरसाइकिल जुलूस या साइकिल जुलूस पर प्रतिबंध लगा दिया गया है । उन्होंने बताया कि सामाजिक सद्भाव बिगाड़ने तथा सामाजिक विद्वेष उत्पन्न करने वाले असामाजिक तत्वों के विरुद्ध निरोधात्मक कार्यवाही की गई है और इसके तहत 25 लोगों को जिला बदर करने की अनुशंसा की गई है।  जबकि 2000 से अधिक लोगों के खिलाफ निरोधात्मक कार्रवाई की गई है ।

श्री मिश्र ने बताया कि रामनवमी को लेकर जिला नियंत्रण कक्ष की स्थापना की गई है और जिला तथा थाना स्तर पर क्यूआरटी टीम भी गठित की गई है । उन्होंने बताया कि कुछ संवेदनशील स्थानों पर ड्रोन से भी मॉनिटरिंग की जाएगी। उपद्रव फैलाने अथवा गड़बड़ी करने की कोशिश करने वाले तत्वों के साथ पुलिस सख्ती से निबटेगी ।

आपको बता दें कि वर्ष 2018 में औरंगाबाद जिले में रामनवमी जुलूस के दौरान दो गुटों के बीच हिंसक झड़प हो गई थी । इस हिंसक झड़प में कई लोगों और पुलिसवालों को चोट लगी थी। वहीं कई दुकानों को भी नुकसान पहुंचा था और कई दिन तक दूकानें बंद रखी गई थी। इन सभी घटनाओं से सबक लेते हुए जिला प्रशासन हर बार रामनवमी पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करती है। ताकि किसी असमाजिक तत्वों को सामाजिक सद्भाव बिगाड़ने का मौका न मिले।

Leave A Reply

Your email address will not be published.