Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

मंदिरों में राम नवमी पर उमड़ी भक्तों की भीड़, जानें क्या है इसकी पूजा विधि और शुभ मुहूर्त

0 117

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: आज श्री राम नवमी पूरे देश में धूमधाम से मनाई जा रही है। सवेरे से ही मंदिरों में दर्शन के लिए भक्तों की कतार लगी है। बता दें कि चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को राम नवमी मनाई जाती है। इस वर्ष श्रीराम नवमी 10 अप्रैल को मनाई जा रही है।। मान्यताओं के अनुसार आज ही चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की नवमी को भगवान श्री राम का जन्म हुआ था।

राम नवमी के दिन रामचंद्र की पूजा और स्तुति फलदायी मानी जाती है। ऐसे करने से श्रीराम प्रसन्न होते है। आइए जानते हैं राम नवमी के दिन शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और स्तुति।

राम नवमी के दिन शुभ मुहूर्त

• चैत्र शुक्ल नवमी तिथि शुरू – 10 अप्रैल, रात्रि 01.23 बजे से

• चैत्र शुक्ल नवमा तिथि समाप्त – 11 अप्रैल, दोपहर 03.15 बजे तक

• राम जन्मोत्सव का शुभ मुहूर्त – दोपहर 11.06 बजे से 01.39 बजे तक

• राम नवमी के दिन सुकर्मा योग – दोपहर 12.04 मिनट तक

• राम नवमी के दिन पुष्य नक्षत्र – पूर्ण रात्रि तक

• राम नवमी के दिन विजय मुहूर्त – दोपहर 02.30 बजे से 03.21 बजे तक

• राम नवमी के दिन अमृत काल – रात्रि 11.50 बजे से 01.35 बजे तक

• राम नवमी के दिन राहुकाल – शाम 05.09 बजे से 06.44 बजे तक

राम नवमी की पूजा विधि

राम नवमी के दिन सुबह जल्द उठकर स्नान करके साफ वस्त्र पहने। फिर हाथ में अक्षत लेकर व्रत रखने का संकल्प लें। भगवान सूर्य को जल चढ़ाए। फिर श्रीराम को पुष्प, 5 प्रकार के फल, मिठाई आदि अर्पण करें। प्रभु को तुलसी का पत्ता और कमल का फूल अर्पित करें। उसके बाद श्रीरामचंद्र स्तुति का पाठ करें।

आपको बता दें कि श्री रामनवमी के शुभ अवसर पर कई जगहों पर शोभायात्रा भी निकाली जा रही है। वहीं इस मौके पर प्रशासन ने कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम कर रखे हैं ताकि कहीं से भी कोई असमाजिक तत्व उपद्रव न कर सके ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.