Bihar Nation
सबसे पहले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

औरंगाबाद: मदनपुर थाना की पुलिस ने जीटी रोड अंजनवां मोड़ के पास से 45 लीटर शराब किया जब्त, तस्कर गिरफ्तार

0 653

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार में शराब का अवैध कारोबार रूकने का नाम नहीं ले रहा है। वहीं होली के त्योहार को लेकर इसके अवैध व्यापार में तेजी आई है। लेकिन पुलिस भी लगातार सघन जांच चला रही है। ताजा मामला औरंगाबाद जिले के मदनपुर थाना क्षेत्र से जुड़ा है। जहाँ मंगलवार को मदनपुर थाना की पुलिस ने जीटी रोड अंजनवां मोड़ के पास से 45 लीटर शराब जब्त किया है। पुलिस ने बाइक को जब्त किया है। वहीं जब्त बाइक का नंबर बीआर 02एजे-6977 है।

 

बताया जाता है कि पालीथिन में शराब रखकर तस्कर ले जा रहे थे। पुलिस ने शराब तस्कर विनय यादव को गिरफ्तार कर लिया है। थानाध्यक्ष संजय कुमार ने बताया कि बिनय गया जिले के बांके बाजार थाना क्षेत्र के बाराटांड गांव का निवासी है।

पुलिस ने मामले में मंगलवार को प्राथमिकी दर्ज कर तस्कर बिनय को जेल भेज दिया है। उधर पुलिस ने देव मोड़ से देव जाने वाली सड़क स्थित एक झोपड़ी नुमा होटल से सोमवार को 300 एमएल का 65 बोतल देसी शराब जब्त किया है।

थानाध्यक्ष द्वारा बताया गया कि झोपड़ी नुमा होटल में गड्ढे कर शराब की बोतलें छिपाकर रखा गया था, जिसकी सूचना मिलते ही बरामद कर लिया गया है। पुलिस के आने की भनक लगते ही तस्कर भाग निकलने में सफल रहा। मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई है।

बारुण (औरंगाबाद) / वहीं अवैध शराब को लेकर बारूण  थाना क्षेत्र में लगातार जांच अभियान चलाया जा रहा है। उसी दौरान बारुण थाना क्षेत्र के सिरिस से शराब से भरे बोरे को पुलिस ने बरामद किया है। हालांकि मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

थानाध्यक्ष धनंजय शर्मा ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर यह कार्रवाई की गई है, जिसमें थाना क्षेत्र के सिरिस से शराब से भरे बोरे को बरामद किया गया।

जिसमें 300 एमएल के तीस की संख्या में शराब की बोतल है। जो कुल नौ लीटर है। इसे लेकर शराब धंधेबाज के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है।

 

बता दें कि होली त्योहार को लेकर इसका अवैध व्यापार शराब माफियाओं के द्वारा तेजी से किया जा रहा है। वहीं पुलिस भी होली के त्योहार को लेकर लगातार जांच अभियान चला रही है।जबकि शराब बंदी को लेकर विपक्ष लगातार नीतीश सरकार पर निशाना साधते रहती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.