Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

Bihar By Election 2021:  उपचुनाव में दोनों सीट इतनी वोट के अन्तर से हारने पर तेजस्वी ने कहा -हम जनादेश का सम्मान करते हैं

0 325

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार में हुए दो विधानसभा उपचुनाव के रिजल्ट मंगलवार को आ गया । दोनों सीटें जेडीयू के खाते में चली गई है।

Saundik interprizes

जहाँ कुशेश्वरस्थान से अमन हजारी ने RJD के गणेश भारती को 12698 मतों से शिकस्त दी है, तो वहीं तारापुर में करीबी मुकाबले में राजीव कुमार सिंह ने RJD के अरुण कुमार साह को 3821 मतों से हराया है। परिणाम आने के बाद तेजस्वी ने कहा कि वे जनमत का सम्मान करते हैं।

चुनाव चिन्ह

मंगलवार सुबह से ही कुशेश्वर स्थान में कैंप करने वाले तेजस्वी यादव ने परिणाम आने के बाद कहा कि हमारे पास खोने के लिए कुछ नहीं था।

चुनाव चिन्ह

उन्होंने कहा कि चुनाव से पहले भी राष्ट्रीय जनता दल 75 विधायकों के साथ सबसे बड़ी पार्टी थी. और चुनाव परिणाम आने के बाद भी हम 75 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी हैं।

चुनाव चिन्हलपेट

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि ‘जनादेश का हम सम्मान करते हैं। हम लोकतंत्र में विश्वास करते हैं। कुछ लोग जनादेश में विश्वास नहीं रखते

चुनाव चिन्ह

उन्होंने कहा 1995 में आखिरी बार जनता दल ने चुनाव लड़ा था। इसके बाद राष्ट्रीय जनता दल ने यहां से एक बार भी चुनाव नहीं लड़ा है। तेजस्वी ने कहा कि हमारी पार्टी ने यहां पहली बार चुनाव लड़ा है इसके बावजूद हमारी यहां अच्छी स्थिति रही है।

चुनाव चिन्ह

तेजस्वी यादव ने कहा कि हमने जमीनी मुद्दों पर चुनाव लड़ा महंगाई, बेरोजगारी आदि को हमने चुनाव में मुद्दा बनाया। उन्होंने कहा कि चुनाव में कुछ लोग निजी हमले करते रहे इसके बावजूद उनकी पार्टी मुद्दों पर रही।

चुनाव चिन्ह

आगे कहा कि इस तरह हमने चुनाव में एक अच्छी  परंपरा की शुरुआत की है। उन्होने कहा कि हमने जमीनी मु्द्दों को उठाया इस वजह से जो लोग सत्ता में बैठे हैं और गाव के रास्ते भूल गए हैं उन्हें डोर-टू डोर जाना पड़ा।

तेजस्वी यादव ने एक क्रिकेटर की तरह कहा कि तारापुर सीट पर सेकेंड लॉस्ट बॉल तक हमलोगों ने कड़ा मुकाबला किया है। तो वहीं कुशेश्वर स्थान सीट पर हार के लिए जदयू के प्रत्याशी को सहानुभूति वोट मिलना बताया।

चुनाव चिन्ह

चुनाव में धांधली के सवाल पर तेजस्वी ने कहा कि हमने सारी चीजों को जनता और इलेक्शन कमीशन के सामने रखा। हमने प्रमाण के साथ सारे मुद्दे उठाए। इसके बावजूद हमें प्रशासन पर विश्वास रखना होगा।

चुनाव चिन्ह

उन्होंने कहा हम विश्वास नहीं रखेंगे तो कौन रखेगा? तेजस्वी ने परिणाम आने के बाद भी एकबार फिर दोहराया बिहार की जनता बदलाव चाहती है, और बदलाव करके रहेगी।

चुनाव चिन्ह

आपको बता दें कि इस बार कॉंग्रेस और आरजेडी के रास्ते अलग हो गये थें ।अंतिम तक दोनों के बीच समझौता नहीं हो सका । परिणाम स्वरूप दोनों ने अलग-अलग उम्मीदवार खड़े किये थें ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.