Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

बिहार : जानें किसे मिला कौन सा विभाग और मंत्रिमंडल विस्तार का जातिगत समीकरण

0 105

 

BIHAR NATION : बिहार के मंत्रिमंडल के विस्तार में समाजिक समीकरण का पूरा ख्याल रखा गया है। मंगलवार को नीतीश कुमार ने मंत्रिमंडल का विस्तार किया। जिसमें पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता सैयद शाहनवाज हुसैन सहित कुल 17 मंत्रियों ने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली। पटना स्थित राजभवन में आयोजित समारोह में राज्यपाल फागू चौहान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की उपस्थिति में नए मंत्रियों को शपथ दिलाई। शपथ लेने वाले विधायकों में नौ भाजपा के और आठ जनता दल (यू) के हैं। भाजपा के सैयद शाहनवाज हुसैन ने उर्दू में शपथ ली, जनता दल यू के संजय कुमार झा ने मैथिली भाषा में शपथ ली।

नीतीश मंत्रिमंडल के इस विस्तार में भाजपा से सैयद शाहनवाज हुसैन, प्रमोद कुमार, सम्राट चौधरी, नीरज बबलू, सुभाष सिंह, नितिन नवीन, नारायण प्रसाद, आलोक रंजन झा और जनक राम तथा जदयू से श्रवण कुमार, मदन सहनी, संजय झा, लेसी सिंह, सुमित कुमार सिंह, सुनील कुमार, जयंत राज और जमा खान ने आज मंत्री के तौर पर शपथ ली। मंत्री बने वालों में चार लोग राजपूत हैं, दो ब्राह्मण और दो कुशवाहा हैं। एक कायस्थ वर्ग के हैं। दो वैश्य और दो कुर्मी जाति से हैं। दो दलित तथा दो मुसलमान हैं। मंत्रिमंडल में भूमिहार जाती से भी  है।

नए मंत्रियों को विभागों का भी बंटवारा कर दिया गया है। सैयद शहनवाज हुसैन उद्योग विभाग के मंत्री बनाए गए हैं। सम्राट चौधरी को पंचायती राज विभाग, सुभाष सिंह को सहकारिता, आलोक रंजन को कला संस्कृति एवं युवा विभाग, प्रमोद कुमार को गन्ना उद्योग एवं विधि विभाग, जनक राम को खान एवं भूतत्व विभाग, नारायण प्रसाद को पर्यटन विभाग, जितिन नवीन को पथ निर्माण, नीरज सिंह बबलू को पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन, श्रवण कुमार को ग्रामीण विकास, लेशी सिंह को खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण, संजय कुमार झा को जल संसाधन तथा सूचना एवं जनसंपर्क विभाग, जमा खान को अल्पसंख्यक कल्याण, सुमित कुमार सिंह को विज्ञान एवं प्राविधिक विभाग, जयंत राज को ग्रामीण कार्य विभाग, सुनील कुमार को मद्य निषेध, उत्पाद एवं निबंधन, मदन सहनी को समाज कल्याण विभाग सौंपा गया है।

पिछले साल संपन्न बिहार विधानसभा चुनाव के बाद 16 नवंबर को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित कुल 15 मंत्रियों ने शपथ ली थी, जिनमें भाजपा से तारकिशोर प्रसाद एवं रेणु देवी बतौर उप मुख्यमंत्री मंत्रिमंडल में शामिल हुए थे जबकि 12 अन्य मंत्रियों में जदयू से विजय कुमार चौधरी, बिजेन्द्र प्रसाद यादव, अशोक चौधरी, मेवालाल चौधरी एवं शीला कुमारी तथा भाजपा से मंगल पाण्डेय, अमरेन्द्र प्रताप सिंह, रामप्रीत पासवान, जिवेश कुमार एवं राम सूरत कुमार, हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा से संतोष कुमार सुमन तथा विकासशील इंसान पार्टी के प्रमुख मुकेश सहनी शामिल थे लेकिन बाद में भ्रष्टाचार का आरोप लगने पर मेवालाल ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। बिहार विधानसभा चुनाव के बाद प्रदेश में नई सरकार के गठन के 84 दिनों के बाद मंगलवार को मंत्रिमंडल का विस्तार किया गया।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.