Bihar Nation
सबसे पहले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

बिहार: सरकारी अस्पतालों में OPD के मरीजों को अब मिलेंगी पांच दिनों की दवा, दवाओं की सूची का होगा ऑनलाइन मॉनीटरिंग

0 171

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: स्वास्थ्य विभाग द्वारा बिहार में सरकारी अस्पतालों में मिलने वाली मरीजों की दवाओं को लेकर अब गंभीर है। इसे लेकर विभाग ने नया निर्देश जारी किया है। अब सरकारी स्वास्थ्य अस्पतालों में मुफ्त उपलब्ध करायी जाने वाली दवाओं की फ्री ड्रग सर्विस इनिसेएटिव के तहत प्रतिदिन ऑनलाइन मॉनीटरिंग की जायेगी। दवाओं की सूची की ऑनलाइन मॉनीटरिंग का काम इ-औषधि (ड्रग एंड वैक्सीन डिस्ट्रीब्यूशन मैनेजमेंट सिस्टम) के जरिये होगा।

जिलों को निर्देश दिया गया है कि अस्पतालों में भविष्य में दवाओं की होने वाली खपत का आकलन भी इ-औषधि पोर्टल पर दर्ज करना होगा। इस कार्य में लापरवाही होने पर संबंधित स्वास्थ्य पदाधिकारी, भंडार के इंचार्ज के साथ अन्य पदाधिकारियों पर कार्रवाई होगी।

राज्य में मिशन-60 के तहत जिलों में अस्पतालों की व्यवस्था सुधार के लिए स्वास्थ्य विभाग ने पूर्व की संचालन प्रक्रिया (एसओपी) में व्यापक बदलाव कर दिया है। नये मानक के अनुसार अस्पातालों में इलाज करानेवाले ओपीडी के मरीजों को अब पांच दिनों की मुफ्त दवाएं दी जानी है। साथ ही अस्पतालों में भर्ती मरीजों को मुफ्त दवा दी जानी है और उनको डिस्चार्ज करने के बाद भी पांच दिनों की मुफ्त दवा दी जानी है।

वहीं इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलों को गाइडलाइन जारी कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग ने ई-औषधि पोर्टल को और कारगर बनाने के लिए जिलों के अस्पतालों को निर्देश दिया है। फिलहाल बिहार के सरकारी अस्पतालों में मिलने वाली मुफ्त दवाओं की आपूर्ति BMSICL के द्वारा की जाती है। अब
अस्पतालों में दवाओं का क्या स्टॉक है, जीवन रक्षक दवाएं कितनी हैं यह सभी डैशबोर्ड पर हर दिन मॉनिटर की जायेगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.