Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

बीएड परीक्षा के लिये बदला नियम,नहीं होगी निगेटिव मार्किंग,120 अंकों की होगी परीक्षा

0 66

 

बिहार नेशन: 13 अगस्त को बीएड की परीक्षा होनेवाली है। यह एक्जाम 11 शहरों में आयोजित किया जाएगा  जिसकी खातिर शहरों में 276 केंद्र बनाए गये हैं । इसमें कुल 1. 36 लाख परीक्षार्थियों के सम्मिलित होने की बात की जा रही है। इस परीक्षा के तहत ही राज्य के विभिन्न बीएड कॉलेजों में नामांकन लिया जाएगा । वहीं बता दें कि इस बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिये शेड्यूल भी जारी पहले ही कर दिया गया है जो 13 अगस्त 2021 को होनेवाली है। लेकिन इस बार की परीक्षा के बारे में बता दें कि 120 अंकों के प्र्श्न पूछे जाएंगे जिसमें निगेटिव मार्किंग नहीं रहेगा ।

स्कूल
स्कूल

इन केंद्रों पर परीक्षा में शामिल होने के लिए कुल 1,36,772 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। इसमें 45 हजार परीक्षार्थी पटना के परीक्षा केंद्रों पर संयुक्त प्रवेश परीक्षा देंगे। इसके अलावा छपरा, मुजफ्फरपुर, हाजीपुर, गया, आरा, दरभंगा, भागलपुर, मधेपुरा, पूर्णिया में भी परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

इसी संयुक्त प्रवेश परीक्षा के आधार पर राज्य के लगभग 330 कॉलेजों में 35 हजार सीटों पर नामांकन होगा। परीक्षा में कुल 120 प्रश्न पूछे जाएंगे, जिनका उत्तर देने के लिए अभ्यर्थियों को दो घंटे का वक्त दिया जाएगा। सभी प्रश्न वस्तुनिष्ठ होंगे, जिनका उत्तर ओएमआर शीट पर देना होगा। इसमें किसी गलत उत्तर के लिए निगेटिव मार्किंग नहीं होगी।

सभी कैटेगरी के अभ्यर्थियों के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण होने के लिए न्यूनतम प्राप्तांक का निर्धारण किया गया है। इसमें अनारक्षित श्रेणी के अभ्यर्थियों के लिए न्यूनतम 35 फीसदी अंक निर्धारित है जबकि एससी, एसटी, बीसी, ईबीसी, डब्ल्यूबीसी और दिव्यांग अभ्यर्थियों के लिए 30% निर्धारित है। इस बार भी राज्य के सभी 14 विश्वविद्यालयों के बीएड कॉलेजों में नामांकन प्रक्रिया इसी संयुक्त प्रवेश परीक्षा के आधार पर संचालित होगी। इसमें उन्हीं कॉलेजों में नामांकन होगा जो विश्वविद्यालयों से सम्बद्ध होने के साथ एनसीटीई से
मान्यता प्राप्त होंगे।

आपको बता दें की इस बार 35 हजार 800 सीटों पर नामांकन लिया जाएगा जिसमें 14 विश्वविद्यालयों के 335 कॉलेज हैं । वहीं यह भी बता दें की इसमें सबसे अधिक 60 कॉलेज भीम राव अम्बेडकर कॉलेज से जुड़े हैं । इन 60 कॉलेजों में कुल 6050 सीट है। वहीं पाटलिपुत्र विवि में कुल 6350 सीट है जो सबसे अधिक है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.