Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

उप प्रमुख पति रमेश यादव को अपराधियों ने किया गोलियों से छलनी, जनता ने किया सड़क जाम

0 353

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार में लगातार ला-ऑर्डर की स्थिति खराब होती जा रही है। क्राइम का ग्राफ थमने का नाम नहीं ले रहा है। केवल कहने को बिहार में सुशासन है। लेकिन इसकी कलई प्रतिदिन हत्याओं से खुल जा रही है। कोई भी सुरक्षित अपने आप को महसूस नहीं कर रहा है। चाहे वह आम आदमी हो या फिर सरकारी अफसर । सभी डरे और सहमे हैं । हर दिन यहाँ से लूट, हत्या जैसी वारदात सामने आती रहती है। कुछ इसी तरह की खबर मोतिहारी से है। जहाँ अपराधियों ने पूर्वी चंपारण जिले के छौड़ादानो थाना क्षेत्र में उप प्रमुख के पति रमेश यादव की गोली मारकर हत्या कर दी है। हत्या के बाद अपराधी भागने में कामयाब रहे । यह शनिवार की घटना है। उनकी पत्नी सुनीता देवी  उप प्रमुख हैं ।

फिलहाल पुलिस ने आपसी रंजिश में हत्या का कारण मानकर जांच प्रारंभ कर दी है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि छौड़ादानो प्रखंड के मटर चौक पर प्रखंड उप प्रमुख सुनीता देवी के पति रमेश यादव अपने मार्केट में कुछ लोगों के साथ बैठकर बात कर रहे थे। इसी दौरान कुछ अपराधी पहुंचे और रमेश यादव पर गोली चलाने लगे।

वहीं मिली जानकारी के मुताबिक यह सब देख कर साथ में बैठे लोग उन्हें तत्काल एक कमरे में खींच कर ले गए, इसके बावजूद अपराधी गोलीबारी करते रहे। घटना के बाद जब तक लोग कुछ समझ पाते, तब तक अपराधी भाग निकले। स्थानीय लोगों की मदद से घायल रमेश को स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

पूर्वी चंपारण के पुलिस अधीक्षक कुमार आशीष ने बताया कि प्रथम दुष्टया कारण आपसी रंजिश का मामला प्रतीत हो रहा है। रक्सौल पुलिस उपाधीक्षक के नेतृत्व में अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए एसआईटी का गठन किया गया है। वहीं उन्होंने दावा करते हुए कहा कि जल्द ही अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

वहीं इस बारे में स्थानीय जनता में काफी आक्रोश है। लोगों ने प्रशासन पर भी लापरवाही का आरोप लगाया। स्थानीय लोगों का कहना है कि वे ईमानदार व्यक्ति थे। उन्होंने ब्लॉक स्तर से लेकर प्राथमिक अस्पताल तक में कई सुधार करवाया। अगर जल्द अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं होती है तो वे लोग आंदोलन करेंगे । सीएम नीतीश कुमार केवल नाम के सुशासन रट लगाते हैं ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.