Bihar Nation
सबसे पहले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

EXCLUSIVE: औरंगाबाद में पुनपुन नदी का अतिक्रमण के कारण अस्तित्व पड़ा खतरे में

बिहार में बहनेवाली पुनपुन नदी को कौन नहीं जानता है। यह नदी कभी अविरल बहती थी

0 267

 

BIHAR NATION : बिहार में बहनेवाली पुनपुन नदी को कौन नहीं जानता है। यह नदी कभी अविरल बहती थी । लेकिन अब इसकी तुलना बरसाती नदियों से कर सकते हैं । अब यह संरक्षण के अभाव में दिन- प्रतिदिन दम तोड़ रही है। इसके अस्तित्व पर खतरा मंडराने लगा है।

बता दें कि इस पुनपुन का उद्गम स्‍थल नवीनगर प्रखंड के कुंड के पास से है। यहां छोटे से गड्ढे़ से पुनपुन नदी निकलती है। यहां से कई इलाके को सिंचित करते हुए नवीनगर होते हुए गंगा नदी में यह मिल जाती है। पुनपुन को आदि गंगे पुनपुन की संज्ञा दी गई है। श्रद्धालु इस नदी में अपने पितरों का पिण्डदान भी करते हैं ।

लोगों का कहना है कि इस नदी के पानी की कभी अविरल धारा बहती थी । लोगों का जब चापकल सुख जाता था तो वे इसकी पानी पीते थें । इससे खेतों की सिंचाई की जाती थी। पशु से लेकर पक्षी तक इसकी जल को पीते थें । लेकिन अब वो स्थिति नहीं रही । गर्मी के दिनों में तो जल संकट और गहरा जाता है। पानी उन्हीं के घरों में होता है जिनके यहाँ समर्सिबल या ट्यूबवेल होता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.