Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

विशेष: अग्निवीर कैसे होंगे भर्ती, क्या होगा वेतन और युवाओं का भविष्य कैसा होगा ? जानें सबकुछ

0 249

 

जे.पी.चन्द्रा की विशेष रिपोर्ट

बिहार नेशन: देश में इस समय अग्निपथ योजना को लेकर घमासान मचा है। छात्र इस जिद पर अड़े हैं कि इस योजना को केंद्र सरकार जितनी जल्द हो सके वापस ले। नाराजगी छात्रों में इसे लेकर इस कदर है कि कई जगहों पर देश के अलग-अलग हिस्सों में हिंसक प्रदर्शन तक हो रहे हैं। छात्रों ने कई ट्रेनों में आग भी लगा दी है। इन छात्रों की बस यही मांग है कि वे अगर इस योजना के तह्त बहाल हो जाते हैं तो 4 साल बाद वे क्या करेंगे। वहीं सरकार इसे ऐतिहासिक बता रही है। लेकिन बहुत सी जानकारी छात्रों के पास अभी नहीं है या सरकार इसे पूरी तरह नहीं समझा पा रही है। परिणामस्वरूप प्रदर्शन थमने का नाम नहीं ले रहा है। तो आईये इसके बारे में पुरा जानने की कोशिश करते हैं।

पहला सवाल आता है कि क्या है अग्निपथ योजना 

– इस योजना के तहत युवाओं को चार साल के लिए सेना में भर्ती किया जाएगा। चार साल की सेवा पूरी करने के बाद 25 फीसदी युवाओं को सेना में आगे बरकरार रखा जाएगा। इस साल 46 हजार युवाओं की भर्ती की जाएगी। इनमें से करीब 25 फीसदी को स्थायी कमीशन के लिए 15 साल के अतिरिक्त कार्यकाल के लिए रखा जाएगा। अन्य को छोड़ने की अनुमति दी जाएगी और एक सेवा निधि दी जाएगी।

– यह राशि लग़भग 11.71 लाख रूपये से अधिक होगी जो ब्याज सहित होगी। यह राशि कर मुक्त होगी और इसका उपयोग व्यक्ति अपने सपनों को आगे बढ़ाने के लिए कर सकता है

कैसी होगी इसकी बहाली की प्रक्रिया:

– केंद्र सरकार ने बताया कि तीनों सेनाओं के लिए एक ऑनलाइन सेंट्रलाइज्ड सिस्टम के जरिए एनरोलमेंट किया जाएगा। भर्ती के लिए स्पेशल रैलियां और मान्यता प्राप्त तकनीकी संस्थानों में कैंपस इंटरव्यू किए जाएंगे।

– इसके लिए आयु सीमा 17.5 साल से 21 साल के बीच होगी। सेना में भर्ती होने वाले सभी युवाओं को फिजिकल और मेडिकल टेस्ट भी लिया जाएगा। 10वीं और 12वीं पास युवा इसके लिए आवेदन कर सकते है।

क्या है इसके लिए शैक्षिक योग्यता:

अग्निवीरों के लिए शैक्षिक योग्यता विभिन्न श्रेणियों में नामांकन के लिए प्रचलित रहेगी। जनरल ड्यूटी (जीडी) सैनिक में प्रवेश के लिए शैक्षणिक योग्यता कक्षा 10 है।

वहीं अग्निवीरों को चार साल बाद क्या मिलेगा ?

– रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि 4 साल बाद जब ये युवा सिविल काम में जाएंगे, तो इनमें एक अनुशासन होगा, जो देश के लिए एक बड़ी संपत्ति साबित होंगे।
– चार साल बाद 75% अग्निवीरों को सेवा से मुक्त कर दिया जाएगा। सिर्फ 25% युवा ही आगे बरकरार रहेंगे। यानी, 46 हजार में से करीब साढ़े 11 हजार युवा ही सेना से जुड़े रहेंगे।

– अब इसके लिए कैसे चयन होगा? तो इसके लिए युवाओं का चार साल का प्रदर्शन देखा जाएगा। सरकार ने बताया कि इस बारे में अभी डिटेल्ड गाइडलाइन आनी बाकी है।

– चुने गए युवा 15 साल तक सेना में और काम कर सकेंगे। चुने जाने के बाद इन पर तीनों सेनाओं के नियम और शर्तें लागू होंगी।

– इस समय शॉर्ट सर्विस कमिशन के तहत 10 साल के लिए युवाओं को सेना में भर्ती किया जाता है। इसकी सीमा को बढ़ाकर 14 साल तक किया जा सकता है।

क्या होगी अग्निवीरों को मिलनेवाली सैलरी ?

अग्निवीरों को बहाली के पहले वर्ष में 30 हजार मिलेगा। जिसमें से 21 हजार उसके हाथ में आएंगे।  जबकि दूसरे साल 33 हजार वहीं तीसरी साल 36 हजार 500 रुपये और चौथी साल में 40 हजार सैलरी दिया जाएगा। इसके बाद जब वे सेवा मुक्त हो जाएंगे तो उन्हें सेवा निधि पैकेज के तहत 11 लाख 71 हजार रुपये मिलेगा। लेकिन यह भी बात है कि इस राशी पर कोई भी इनकम टैक्स नहीं लगेगा। वहीं यह भी बता दें कि इन अगनिवीरो को कोई भी पेंशन या ग्रेच्युटी नहीं दी जाएगी। लेकिन 4 साल के लिए अग्निवीरों को 48 लाख का वीमा दिया जाएगा।

बता दें कि इस योजना को लेकर सरकार का कहना है कि इस योजना से लोगों में अनुशासन आएगा। यह योजना देश के लिए ऐतिहासिक साबित होगा। बता दें कि इसकी घोषणा रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 14 जून को यानी पिछले मंगलवार को की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.