Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

मदनपुर प्रखंड के इस पंचायत में वार्ड सदस्य और सचिव ने बिना कार्य के डकारें 542758 रुपये, वार्ड सदस्य गिरफ्तार

0 337

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: पंचायती राज के तहत वार्ड एवं वार्ड सचिव को वार्ड में कार्य करने के लिए कुछ शक्तियाँ दी गई है। लेकिन वे इसका गलत प्रयोग कर अपनी संपत्ति बढाने का कार्य कर रहे हैं । ऐसा ही एक मामला औरंगाबाद जिले के एक पंचायत एरकी कला से है। जहाँ वार्ड सदस्य एवं वार्ड सचिव ने मिलकर 542758 रुपये गबन कर गये । इस मामले में स्थानीय थाना की  मदनपुर पुलिस ने तत्कालीन वार्ड सदस्य को गिरफ्तार कर लिया है।

गिरफ्तार

बता दें कि यह मामला कमात के वार्ड संख्या -09 की है। जिसके तत्कालीन वार्ड सदस्य अरूण कुमार सिंह थे। तत्कालीन वार्ड सदस्य कमात निवासी अरुण कुमार सिंह और वार्ड सचिव रविरंजन कुमार के ऊपर तत्कालीन प्रभारी प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी सुनील कुमार सिंह के आवेदन पर मदनपुर थाने में गबन की प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी।

वहीं मदनपुर थाना कांड संख्या-289/21 के तहत 04 अक्टूबर 2021 को तत्कालीन प्रभारी प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी सुनील कुमार सिंह ने थाने में एक आवेदन दिया था।आवेदन में लिखा गया था कि, सात निश्चय योजना के तहत कमात गांव में हरिद्वार सिंह के घर से दुर्गा मंदिर तक नाली पर ढक्कन सहित ईंट सोलिंग एवं पीसीसी का कार्य किया जाना था।इसके लिए 1197700 रूपये वार्ड सदस्य एवं वार्ड सचिव के संयुक्त खाते के डाली गई थी।इनके द्वारा 1189436 रुपये की अग्रिम राशि निकासी कर सिर्फ 646678 रुपये का ही कार्य किया गया।शेष 542758 रुपये की राशि इन दोनों के द्वारा गबन कर लिया गया।

इस आवेदन में कहा गया है कि, सरकारी राशि के गबन और सरकार के महत्वकांक्षी योजना को विफल करने का प्रयास इन लोगों के द्वारा किया गया है।आवेदन में वार्ड सदस्य क्रियान्वयन एवं प्रबंध समिति के अध्यक्ष अरुण कुमार सिंह एवं वार्ड सचिव रविरंजन कुमार को मुख्य अभियुक्त बनाया गया था।

इस मामले में कारवाई करते हुए मदनपुर थानाध्यक्ष संजय कुमार ने बताया कि इन पर पंचायत के राशि के गबन का आरोप था । जिसमें मामला दर्ज करवाया गया था। इसी संबंध में यह कारवाई करते हुए वार्ड सदस्य को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। जबकि इसी मामले में दूसरे अभियुक्त रवि रंजन कुमार की गिरफ्तारी के लिए तलाश जारी है

Leave A Reply

Your email address will not be published.