Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

मोटी रकम लेकर गांजा तस्कर को छोड़ना मदनपुर थानाध्यक्ष संजय सिन्हा को पड़ गया भारी, एसपी ने किया सस्पेंड

0 287

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार में थानों की क्या स्थिति बनी हुई है। वह किसी से छुपी नहीं है। क्राइम का ग्राफ़ थमने का नाम नहीं ले रहा है। बिना चढ़ावे के थाना में कारवाई नहीं होती है। ये हम नहीं कह रहे हैं बल्कि आम लोगों के बीच में बिहार पुलिस के अधिकारियों और थाने के पुलिस की यही धारणा बनते जा रही है। और इस तरह की धारणा बनना भी लाजमी है। क्योंकि समय-समय पर ऐसे मामले उजागर पुलिस के होते रहते हैं जिससे पुलिस की छवि दागदार हो ही जाती है। कुछ ऐसा ही मामला औरंगाबाद जिले के मदनपुर थाना से जुड़ा है। जहाँ के थानाध्यक्ष संजय सिन्हा को पैसा लेकर गांजा ले जा रही वाहन को छोड़ने के आरोप में जिले के एसपी कांतेश मिश्र ने निलंबित कर दिया है।

सूत्रों के मुताबिक दरअसल मामला यह है कि मदनपुर थानाध्यक्ष ने कुछ सप्ताह पहले नेशनल हाईवे पर गांजे से लदे वाहन को पकड़ा था लेकिन उसे थानाध्यक्ष ने मोटी रकम लेकर छोड़ दिया था। लेकिन मामला तब फंस गया जब उसका हिस्सा पूरी टीम को नहीं मिला। यह मामला जिले के एसपी के पहुंच गया । एसपी ने मामले को सदर एसडीपीओ गौतम शरण ओमी को जाँच के लिए सौंपा। जिसमें रिपोर्ट सही पाया गया। तब एसपी कांतेश मिश्र ने कारवाई करते हुए थानाध्यक्ष को सस्पेंड कर दिया । साथ ही थानाध्यक्ष पर विभागीय कारवाई की भी बात कही जा रही है।

वहीं आपको बता दें कि इस कारवाई से जिले के सभी थानाध्यक्षो में हड़कंप मच गया है। क्योंकि कई थानों से अक्सर ये शिकायत आ रही है कि शराब व्यवसायियों को पुलिस का संरक्षण मिलता है जिस कारण से यह नहीं बंद नहीं हो रहा है। उन्हें पैसे लेकर छोड़ दिया जा रहा है। अब मामला चाहे जो भी एक कड़ा संदेश एसपी ने कठोर कारवाई करके देने का प्रयास किया है। जो सराहनीय कदम है। और घूसखोरी करने वालों के लिए एक सबक भी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.