Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

विधायक नेहालुद्दीन ने जिलाधिकारी के सामने उठाया शिवगंज पशु मेला सड़क पर बनाए जा रहे मकान का मामला, होगी नापी 

0 565

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट 

बिहार नेशन: औरंगाबाद जिले के मदनपुर प्रखंड अंतर्गत दधपि पंचायत में सड़क मार्ग पर एक खास व्यक्ति द्वारा गृह निर्माण से जनता के बीच आक्रोश देखा जा रहा है। अब इस मामले को रफीगंज विधायक मो. नेहालुद्दीन ने जिलाधिकारी के सामने उठाया है। जिसपर नापी की बात की जा रही है।  बता दें कि यह मार्ग शिवगंज जीटी रोड पशु मेला से होते हुए बहलोला रसलपुर पथ तक जाती है। इस सड़क मार्ग से गेवाल बिगहा, दरभंगा, बहलोला, रसलपुर, कोश डीहरा, खेसर,बदल बिगहा , घोङा डिहरी , रंगा बिगहा , पटौधी, तेंदुआ, पेमा, करपतई,कठवर, मुंशी बिगहा , बेलमा, डुमरी , चरैया मुङ गाङा, विश्रामपुर समेत लगभग 50 गांव के लोग इस रास्ते से होते हुए पर्यटक स्थल देव – केताकी होते हुए झारखंड तक जाते हैं।

परंतु यह सड़क कई बार अतिक्रमण का शिकार हो चुका है। ग्रामीणों द्वारा इस मामले में कई बार अधिकारियों के पास शिकायत भी की गई और आंदोलन भी किया गया। लेकिन पदाधिकारियों द्वारा कोई कारवाई नहीं की गई। अब एक बार फिर से लोगों के आने जाने के रास्ते पर एक व्यक्ति द्वारा गृह निर्माण से ग्रामीणों में आक्रोश हैं।

वहीं अब 30 जुलाई 2022 को इस क्षेत्र के रफीगंज विधायक मो.नेहालुद्दीन के द्वारा जोरदार तरीके से इस मसले को जिला पदाधिकारी के सामने उठाने पर पदाधिकारी भी एक्शन में आए हैं। अब उक्त जमीन पर कल यानी गुरुवार को प्रखंड के सीओ के सामने नापी की बात कही जा रही है। इस मामले में जनप्रतिनिधियों से लेकर जनता की एक ही मांग है कि किसी प्रकार लोगों को रास्ता मिल सके।

विधायक नेहालुद्दीन

इस बारे में गैवाल बिगहा निवासी सामाजिक कार्यकर्ता एवं राजद नेता रामेश्वर कुमार रौशन और पंचायत समिति सदस्य आनंद शर्मा का कहना है कि इस सड़क मार्ग पर सैकड़ों वर्षों से लोग आते जाते हैं । लोगों को आने जाने का मार्ग अगर बंद हो जाएगा तो आसपास के गावों के लोग कैसे आएंगे- जाएंगे।

यह भी बता दें कि इसी मार्ग पर जिला प्रशासन के द्वारा पिछले लगभग एक साल पूर्व कचरा फेंकने का स्थल भी बनाया गया था जिसका आसपास के ग्रामीणों ने जोरदार विरोध और आंदोलन किया था। बाद में स्थानीय विधायक नेहालुद्दीन ने इस मामले को सुलझाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी और यहाँ कचरा को फेंकने का कार्य बंद किया गया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.