Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

गया में नक्सलियों ने पेट्रोल छिड़ककर कंस्ट्रक्शन कंपनि के पोकलेन मशीन को उड़ाया

0 483

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट 

बिहार नेशन: नक्सलियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुए एक बार फिर से सड़क निर्माण में लगे पोकलन मशीन को बुधवार की अहले सुबह पेट्रोल छिड़ककर जला दिया है। यह पोकलन मशीन गया जिले के डुमरिया प्रखंड के भदवर थाना क्षेत्र पिपरवार गांव के पास थी। बता दें कि यहाँ सड़क निर्माण का कार्य श्रीराम कंस्ट्रक्शन के द्वारा किया जा रहा है।

इसके साथी ही नक्सलियों ने एक पोस्टर भी चिपकाया है जिसमें नक्सलियों के द्वारा लिखा गया है कि कंस्ट्रक्शन के मुंशी व ठेकेदार के द्वारा कॉल नहीं उठाया गया था जिसको लेकर इस घटना को अंजाम दिया गया है। हालांकि घटना की सूचना मिलते हैं स्थानीय पुलिस घटनास्थल पर पहुंची है और छानबीन में जुट गई है।

घटना स्थल पर मिला पर्चा

दरअसल यह मामला रंगदारी की मांग से जुड़ा है। नक्सलियों के द्वारा कंस्ट्रक्शन ठेकेदार और मुंशी से लेवी की मांग को लेकर लगातार फोन किया जा रहा था लेकिन इसको नजर अंदाज ठेकेदारों के द्वारा किया जा रहा था। इसी को लेकर ही नक्सलियों ने इस घटना को अंजाम दिया है।

पोकलेन मशीन

हालांकि इमामगंज डीएसपी अजीत कुमार और डुमरिया थाना प्रभारी घटना स्थल पर पहुंच गये हैं । डीएसपी ने बताया कि पोकलेन मशीन को अज्ञात बदमाशों द्वारा जलाया गया है। उन्होंने साफ तौर पर नक्सलियों की कार्रवाई से इनकार किया है। डीएसपी ने बताया कि घटनास्थल से उन्हें पर्चा मिला है। जिसमें लेवी और फोन नहीं उठाने की बात अंकित है। उस पर्चे की जांच भी की जा रही है लेकिन पूर्व में संवेदक द्वारा ऐसी कोई सूचना स्थानीय थाना को नहीं दी गई है

आपको बता दें कि नक्सलियों के द्वारा 10 मार्च को मगध प्रमंडल को बंद का आह्वान किया गया है, जिसको लेकर एक दिन पूर्व भी नक्सलियों ने कई क्षेत्रों में पर्चा भी गिराया था।

नक्सलियों ने पर्चा में लिखा है कि उनलोगों के खिलाफ झूठी बमबारी कर सुरक्षाबल लोगों को गुमराह कर रहे हैं। वहीं आपको बता दें कि हाल ही में नक्सलियों और सुरक्षा बलों के बीच गया -औरंगाबाद सीमा पर मुठभेड़ हुई थी जिसमें तीन सुरक्षा बल नक्सलियों द्वारा बिछाये गये आईईडी ब्लास्ट में गंभीर रूप से घायल हो गये थे, जिनका अभी दिल्ली के एम्स में इलाज चल रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.