Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

नक्सलियों ने गया- औरंगाबाद सहित मगध प्रमंडल में बंदी का किया आह्वान, चिपकाया पोस्टर

0 446

 

जे.पी. चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार में नक्सलियों के खिलाफ पुलिस द्वारा चलाई जा रही सर्च अभियान से खलबली मची है। अब खबर है कि भाकपा माओवादियों ने पोस्टर चिपकाकर आगामी 10 मार्च को बंदी का एलान किया है। यह बंदी मगध क्षेत्र में बुलाया गया है। पोस्टर में लिखा है कि अर्धसैनिक बलों के द्वारा भीषण गोलाबारी को ले लेकर यह फैसला लिया गया है।

नक्सली पोस्टर

मामला इमामगंज पुलिस अनुमंडल अंतर्गत मैगरा थाना क्षेत्र के कालीदह आईटीआई व इमामगंज थाना क्षेत्र के पकरी गुरिया बाजार का है जहां नक्सलियों ने पोस्टर के माध्यम से 10 मार्च को मगध प्रमंडल बंद करने का एलान किया है। गया और औरंगाबाद के सीमावर्ती जंगली इलाका में सुरक्षा बलों के द्वारा बमबारी के विरोध में बंद बुलाया गया है।

नक्सली पोस्टर

नक्सलियों का कहना है कि औरंगाबाद-गया के जंगलों में 5-6 जनवरी को और 3,4,5,6, 23,25,26 फरवरी को अर्धसैनिक बलों द्वारा भीषण बमबारी जंगली इलाकों में की गई थी। इससे जंगल में चारा के लिए घूमने वाले पशु पक्षी जो वनवासी होते हैं वे काफी दहशत में है। वह अपने जानमाल को लेकर चिंतित व भयभीत भी है। उन्हें खुद के साथ ही अपने जानवरों के जानमाल की सुरक्षा का भय साल रहा है। सीआरपीएफ वनवासियों को जंगल से हटाना चाहते हैं, साथ ही जंगल को नष्ट करना चाह रहे हैं।

वहीँ पोस्टर को पुलिस जब्त कर आगे की करवाई कर रही है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक गया और औरंगाबाद के जंगलों में लगातार सर्च ऑपरेशन जारी है। जिससे नक्सली अपने जंगल के ठिकाने से भी भाग खड़े हुए हैं।

गौरतलब हो कि पुलिस द्वारा गया -औरंगाबाद जिले में जारी सर्च अभियान से नक्सलियों के सामने नया ठिकाना ढूंढने की नौबत आ गई है। बीते कुछ दिनों में पचरूखिया के जंगलों में दोनों के बीच मुठभेड़ हुई है। साथ ही नक्सलियों ने आईईडी ब्लास्ट भी किया है जिससे तीन जवान घायल भी हो गये थे। जिनका इलाज चल रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.