Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

अब चिराग बिहार में ही गाड़ेंगे खूंटा,जरुरी काम होने पर जायेंगे पटना से दिल्ली,पढ़ें ये रिपोर्ट

वे अब किसी भी दल के साथ नहीं जाना चाहते हैं. क्योंकि वे जानते हैं कि इस परिस्थिती में वे किसी से बार्गेनिंग नहीं कर सकते हैं.

0 155

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: एलजेपी के सुप्रीमों चिराग पासवान फूक-फूंककर कदम रख रहे हैं.अब उन्होंने निर्णय लिया है कि वे दिल्ली से अधिक बिहार में ही समय देंगे. वे संगठन को मजबूत करना चाहते हैं. वे अब किसी भी दल के साथ नहीं जाना चाहते हैं. क्योंकि वे जानते हैं कि इस परिस्थिती में वे किसी से बार्गेनिंग नहीं कर सकते हैं. वे अपनी पार्टी को मजबूत कर अपनी छवि भी बनाना चाहते हैं.

वहीं लोजपा के प्रदेश अध्यक्ष राजू तिवारी के मुताबिक़ चिराग बिहार से ही सभी कार्य करेंगे और पटना में ही रहकर अपनी पैर ज़माना चाहते हैं. जिस तरह से वो पहले दिल्ली से बिहार आते थे, अब जरुरी काम होने पर पटना से दिल्ली जायेगें. पार्टी में टूट के बाद चिराग पासवान ने जिस तरह से कमबैक किया, उस हिसाब से कहा जा रहा है कि उनकी राजनीतिक पारी की यह नई शुरुआत है, लेकिन अभी उन्हें कड़ी मेहनत करनी होगी. आशीर्वाद यात्रा से कुछ हद तक इनकी इमेज भी बदली है. चिराग समर्थकों का कहना है कि आशीर्वाद यात्रा से राज्य के युवाओं में उत्साह आया है.

आपको बता दें कि चिराग पासवान अपनी बढ़ती लोकप्रियता से भी काफी खुश नजर आ रहे हैं. ऐसे में चिराग को लगता है कि वे बिहार में रहकर चुनौती को अवसर के रूप में बदल सकते हैं. इस कारण से वे बिहार में रहकर राजनीतिक लड़ाई लड़ना चाहते हैं. वे चाहते हैं कि सीएम नीतीश को पटना में ही रहकर सभी मुद्दों पर घेरा जाय. क्योंकि हमेशा से उनपर विरोधी यह आरोप लगाते रहे हैं कि वे हवाई नेता हैं. उन्हें जमीनी स्तर से कुछ नहीं लेना है. इसलिए चिराग चाहते हैं कि अब वे ऐसा कोई मौक़ा विरोधीयों को न दें जिससे उनपर इस तरह के आरोप लगे. आपको बता दें कि इस समय लोजपा दो गुट में बंट चुका है . एक नेतृत्व उनके चाचा पशुपति पारस कर रहे हैं तो दुसरे का चिराग स्वंय .

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.