Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

PANCHAYAT CHUNAV 2021: फर्जी वोटिंग करने वालों पर होगी कार्रवाई, मतदाताओं का होगा बायोमेट्रिक सत्यापन

0 230

 

जे.पी.चन्द्रा की विशेष रिपोर्ट

बिहार नेशन: इस बार पंचायत चुनाव कई मायनों में पहले होनेवाली पंचायत चुनाव से हटकर होगा । पहली बात तो यह कि इस बार पंचायत चुनाव ईवीएम से होगा।

वहीं दूसरी बात महत्वपूर्ण यह है की आयोग ने फर्जी मतदान को रोकने के लिये विशेष व्यवस्था अर्थात टेक्नोलॉजी का सहारा लेने का निर्णय लिया है।

घटराईन पंचायत- सरपंच पद के उम्मीदवार

अब मतदाताओं का बायोमीट्रिक सत्यापन होगा । इसके लिये हरेक बूथ पर आयोग की तरफ से एक टेक्निकल अधिकारी नियुक्त किया जाएगा जो टैबलेट के साथ रहेगा ।

वह निर्धारित फॉर्मेट में हर एक मतदाता के पहचान पत्र सहित अन्य जानकारियों के साथ उनकी मतदाता पर्ची की फोटो और अंगूठे की छाप भी लेगा ताकि ये सुनिश्चित हो सके कि एक ही मतदाता किसी और बूथ या बूथों पर जाकर फर्जी वोट न डाल पाए।

रेशमी देवी,मनिका (मुखिया प्रत्याशी)

इसके बावजूद फर्जी वोटिंग करते पकड़े जाने पर बिहार पंचायती राज अधिनियम 2006 के तहत कार्रवाई होगी। मतदाता वैकल्पिक पहचान पत्र के तौर पर आधार कार्ड साथ लेकर मतदान करने आता है तो सत्यापन और जल्दी होगा।

हर एक टेबलेट में उस बूथ की वोटर लिस्ट भी दर्ज होगी। बस संबंधित बूथ की लिस्ट डाउनलोड करनी होगी और सत्यापन शुरू किया जा सकेगा। सत्यापन संबंधित डाटा क्लाउड और होस्टेड केंद्रीय सर्वर पर होने से मतदाता उस इलाके में किसी भी मतदान केंद्र पर दोबारा वोट डालने की नीयत से जाएगा तो उसकी पोल खुल जाएगी।

एरकी कला,मुखिया प्रत्याशी
एरकी कला, मुखिया प्रत्याशी

इसके अलावा यदि किसी मतदान केंद्र पर इंटरनेट सेवा बाधित होगी और वोट डालकर चला गया मतदाता दोबारा आएगा तब डुप्लीकेट के रूप में उसके अंगुली की छाप आ जाएगी।

उतरी उमगा, मुखिया प्रत्याशी

टेबलेट के जरिए हर दो घंटे बाद रियल टाइम अपडेट भी आयोग को मिलता रहेगा। यानी मतदाता टर्न आउट और अन्य जानकारियां और आंकड़े भी।

आपको बता दें की यह टैब BECIL के विशेषज्ञ टीम ने विकसित की है। साथ ही यह भी बता दें कि टैबवाले अधिकारी वोटिंग समाप्त होने के बाद पुरी टीम के साथ उसी वाहन से प्रखंड के मुख्यालय में आ जाएंगे ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.