Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

पुलिस ने 8 वाहनों से 1448 लीटर अंग्रेजी शराब किया जप्त, एक सरकारी डाक पार्सल भी शामिल जिसमें लिखा था बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ 

0 224

 

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट 

बिहार नेशन: बिहार में शराब बंदी के बावजूद भी इसका व्यापार धड़ल्ले से जारी है। शराब माफिया होली के आनेवाले त्योहार को लेकर शराब की खेप लगातार चोरी-छिपे भेज रहे हैं । ताजा मामला मसौढ़ी के धनरूआ थाना से है जहाँ पुलिस ने होली से पहले लाई जा रही अंग्रेजी शराब की बड़ी खेप को बरामद किया है। पुलिस ने शराब माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 1448 लीटर अंग्रेजी शराब को 8 वाहनों से जप्त किया है।

इस पूरे मामले में थानाध्यक्ष धनरूआ दीनानाथ सिंह ने बताया कि उन्हें गुप्त सूचना मिली थी की थाना क्षेत्र के ससौना गांव में शराब माफियाओं के द्वारा शराब की एक बड़ी खेप लाई गई है। जिसके बाद पुलिस ने उक्त सूचना वाले स्थान पर छापेमारी की। छापेमारी के क्रम में ससौना गांव के बगीचे से पुलिस ने 8 वाहनों को जप्त कर लिया। जब जप्त 8 वाहनों की तलाशी ली गई तो पुलिस दंग रह गई। सभी वाहनों में गुप्त चैंबर बनाकर शराब की खेप छुपाई गई थी। जिसको पुलिस ने बरामद कर लिया है। जप्त वाहनों में एक सरकारी डाक पार्सल का भी वाहन है। जिसमें साफ-साफ अक्षरों में लिखा हुआ था बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ।

आप इसी से अंदाजा लगा सकते हैं कि किस तरह शराब माफिया इन दिनों सरकार के सभी नीतियों का माखौल उड़ा रहे हैं, और शराब के धंधे को धड़ल्ले से चला रहे हैं। फिलहाल सभी वाहनों को जप्त कर लिया गया है। पुलिस बिहार मद्य निषेध कानून के तहत कार्रवाई करने में जुटी हुई है। जप्त शराब की कीमत लाखों में आंकी जा रही है। धनरुआ पुलिस की इस करवाई से इलाके के शराब माफ़ियाओं में हड़कंप मच गया है।

आपको बता दें कि बिहार में शराब बंदी को लेकर सीएम नीतीश की काफी किरकिरी लगातार सता पक्ष और विपक्ष की पार्टियां कर रही हैं । साथ ही कई बार समीक्षा की मांग भी करते रहते हैं । यहाँ तक की कोर्ट में इससे जुड़े कई  हजार मामले लंबित होने के कारण जुडिशरी के कार्यकलापों पर भी असर पड़ रहा है और न्यायालयो पर बोझ बढ़ गई है। हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने भी राज्य सरकार को जवाब तलब किया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.