Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

खिरियावां के नवटोली के पप्पू पासवान की मौत से उजड़ गया पूरा परिवार, 11जुन को थी बेटी की तिलक

0 351

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार में शराब बंदी के बावजूद भी इसका अवैध व्यापार जारी है। भले ही नीतीश सरकार और प्रशासन अपनी पीठ थपथपाते रहे कि बिहार में शराब बंदी है। लेकिन हकीकत किसी से नहीं छुपी है। जहरीली शराब से प्रतिदिन राज्य में कई मौतें हो रही हैं। औरंगाबाद जिले के मदनपुर थाना क्षेत्र में तो लगातार तीन-चार दिन से मौत का तांडव जारी है। लेकिन जरा सोचिए कि उस परिवार का क्या होगा जिसके घर के कमाने वाले मुख्य सदस्य की मौत हो गई हो।

हम बात कर रहे हैं औरंगाबाद जिले के मदनपुर थाना क्षेत्र की । मदनपुर थाना क्षेत्र में लगातार कई दिनों से शराब पीकर मरने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। गुरुवार को भी खिरियावा पंचायत में मौत हुई। इन्हीं में से एक घटना की हम बात कर रहे हैं। जो खिरियावा के नवटोली में घटी है। इस नवटोली के पप्पू पासवान की गुरुवार को मौत हो गई । वह मजदूरी का कार्य करता था।

जब हमने घटनास्थल पर जाकर ग्राउंड रिपोर्टिंग की तो उनकी बच्चियों और उपस्थित परिजनों का साफ़ कहना है कि पप्पू पासवान की मौत शराब के सेवन से हुई है। वहीं महिलाओं और मृतक की पुत्री का साफ़ कहना है कि उनके पिता को पहले से कोई बीमारी नहीं थी। लेकिन अब सवाल यह उठता है कि जब नीतीश सरकार बार-बार यह कहती है कि बिहार में शराब बंदी है तो फिर ये जहरीली शराब से मौतें कैसे हो रही हैं । कहीं न कहीं प्रशासनिक विफलता है । जो साफ़ झलकती है।

लेकिन उससे भी बड़ा सवाल यह है कि अब पप्पू पासवान के परिजनों का क्या होगा । उन्हें जिला प्रशासन मदद देगा या नहीं ? उनके बच्चे-बच्चियों की शिक्षा का खर्च कौन उठाएगा ? ये सबसे बड़ा सवाल है। क्योंकि पप्पू पासवान की चार पुत्रियां और एक 6 साल का पुत्र है। इसमें एक पुत्री की शादी हो गई है। जबकि एक की शादी अगले महीने जून में होनेवाली थी। 11 तारीख को तिलक जानेवाला था। लेकिन अब बच्ची का क्या होगा ?  जिला प्रशासन को इन सभी बिंदुओं पर सोंचने की जरूरत है और परिवार को आर्थिक मदद की जरूरत है।

वहीं खिरियावां पंचायत से पिछले पंचायत चुनाव में  मुखिया प्रत्याशी रहे केदार साव का कहना है कि मृतक का परिवार बहुत ही गरीब है। जिला प्रशासन मुआवजे दे। ताकि इस परिवार के बच्चों का भविष्य बिगड़ने से बच सके ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.