Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

कोरोना से मौत पर पति को पत्नी ने दी मुखाग्नी, कोई रिश्तेदार नहीं आया मदद को

इस कोरोना संक्रमण ने जहाँ लोगों को आतंकित किया है तो वहीं इसने अपनों की पहचान भी करा दी है. अपने गाँव या रिश्रेदार के लोग भी इस विकट परिस्थिती में साथ देने से इनकार करने लगे हैं. 

0 80

बिहार नेशन: इस कोरोना संक्रमण ने जहाँ लोगों को आतंकित किया है तो वहीं इसने अपनों की पहचान भी करा दी है. अपने गाँव या रिश्तेदार के लोग भी इस विकट परिस्थिती में साथ देने से इनकार करने लगे हैं.  एक ऐसा ही मामला बिहार के दरभंगा जिला से आया है. जहाँ एक पत्नी ने अपने सभी गाँव वालों और रिश्रेदारो  से गुहार लगाकर थक गई लेकिन कोई भी उसके पति की अन्येष्टि के लिए आगे न आया. अंत में थक हारकर खुद पत्नी ने किसी निजी संस्थान की सहयोग से पीपीई किट पहकर बिना रोये पति को मुखाग्नी दी.

दरअसल यह मामला दरभंगा जिले का है. हरिकांत राय अष्टजाम से आये थे .उसी के बाद उन्हें वुखार रहने लगा. इसके बाद चार दिन तह वे घर में ही रहे. उसके बाद लोगों के कोरोना संक्रमित होने की बात कहने पर उनकी पत्नी मीणा देवी ने उन्हें रोसड़ा स्थित सरकारी अस्पताल में जांच करवाई और वहीं भर्ती कराया.  लेकिन चार दिन के बाद उनकी तबियत और बिगड़ने लगी. तब डॉक्टरों ने उन्हें डीएमसीएच रेफर कर दिया. लेकिन वहाँ उन्ही मौत हो गई.

उनकी पत्नी मीणा देवी ने बताया कि उसके कई रिश्तेदार सूचना पाकर आये.  11 सुबह उनके देवर और रिश्रेदार शनिवार को पहुंचे .लेकिन जब दाह संस्कार की बात आई तो सभी ने मुंह फेर लिया. कोई गाँव वालों ने भी साथ नहीं दिया.

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.