Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

पर्वत पुरुष की मनाई गई 14 वीं पुण्यतिथि

0 38

 

 

औरंगाबाद। शहर के वार्ड नंबर 5 जय मां कॉलोनी में पर्वत पुरुष दशरथ मांझी की 14 वीं पुण्यतिथि भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा भाजपा नेता विजय प्रसाद निराला की अध्यक्षता में उनकी प्रतिमा पर फूलमाला चढा कर श्रद्धांजलि अर्पित कर किया गया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपस्थित पूर्व जिला अध्यक्ष प्रदेश कार्यसमिति सदस्य पुरुषोत्तम कुमार सिंह ने उनके जीवन पर चर्चा करते हुए बताया कि पर्वत पुरुष दशरथ मांझी व्यक्ति नहीं विचार थे। ऐसे महापुरूष किसी जाति विशेष के लिए बल्कि पूरे मानव समुदाय के लिए प्रेरणा के स्रोत होते हैं। इनके विचारों एवं सिद्धांतों को अपने जीवन में उतारकर समाज और राष्ट्रहित में लगाने पर जोर दिया। उन्होंने विशाल पहाड़ का सीना चीरकर रास्ता बना दिया था, उसी प्रकार हमलोगों को भी उनसे प्रेरणा लेकर समाज के सामने पहाड़ क तरह सीना ताने समस्याओं एवं कुरीतियों का नाश करके विकास का मार्ग प्रशस्त्र कर सकते हैं।दशरथ मांझी ने संकल्प लिया जबतक तोड़ेंगे नहीं, तब तक छोड़ेंगे नहीं और उन्होंने उस संकल्प को पूरा किया। कौन कहता है कि पत्थर में सुराख नहीं हो सकता, तबियत से एक पत्थर से उछालो यारों ऐसी ही कहावत को चरितार्थ किया है बिहार के माउंटेन मैन दशरथ मांझी ने। दशरथ मांझी बिहार के गया के गहलौर गांव के एक गरीब मजदूर थे जिन्होंने 22 वर्षों के मेहनत की बदौलत केवल एक हथौड़ा और छेनी लेकर अकेले ही 360 फुट लंबी 30 फुट चौड़ी और 25 फुट ऊँचे पहाड़ को काट कर एक सड़क बना डाली। इस अवसर पर विनोद कुमार सिंह, विजय प्रसाद निराला, वीरेंद्र कुमार सिंह, ई.कुश कुमार, विनोद शर्मा, वीरेंद्र पाठक, जदयू नेता अमर उजाला, अमरेंद्र कुमार सिंह, कामदेव राय, आकाश कुमार, गौतम कुमार ,मेघन राम, प्रतिक् कुमार, अभिषेक शर्मा सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.