Bihar Nation
सबसे पहले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

खगड़िया: सुशासन काल में असुरक्षित हैं विश्वकर्मा समाज एवं बेटियां,पुलिस हत्यारे को अबतक नहीं पकड़ पाई

0 564

 

परबता से लाली सिंह की रिपोर्ट

बिहार नेशन: प्रगतिशील विश्वकर्मा परिषद के संस्थापक सदस्य सह राष्ट्रीय कार्डिनेटर दिवाकर शर्मा ने कहा कि बिहार में विश्वकर्मा समाज की बेटियों का जीना दुर्लभ हो गया है। विश्वकर्मा समाज के लोग आजादी के उपरान्त भी भय में जीने को मजबुर है।

उन्होंने कहा कि सुपौल स्थित निर्मली के विश्वकर्मा समाज की बेटी को गोली मारकर हत्या कर दी गई । वह लड़की बेहद संस्कारी, मेहनती और मेधावी थी। वह पढ़ाई कर कुछ करना चाहती थी। लेकिन उसे जीने नहीं दिया गया । उसका दोष केवल इतना था कि वह मनचले एवं अपराध प्रवृत्ति के लड़के के खिलाफ थी। उसे तंग किया जा रहा था । उसे एकतरफा प्यार का खिलाफ करना मंहगा पड़ गया । लेकिन उससे  भी अहम बात यह है कि उस दुर्दांत अपराधी और किलर को अभी तक पुलिस गिरफ्तार नही कर पायी है।

उन्होंने कहा कि प्रगतिशील विश्वकर्मा परिषद, इस घटना की घोर निन्दा करता है और सरकार से मांग करती है कि उस परिवार की जान माल की सुरक्षा की गारन्टी के साथ 24 घन्टे के अन्दर अपराधीयों को गिरफ्तार कर जेल भेजकर स्पीडी ट्रायल चलाकर कड़ी से कड़ी सजा दी जाय। ऐसा नहीं होता है तो विश्वकर्मा समाज उग्र आन्दोलन करने को बाध्य होगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.