Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

भारत मना रहा अपना 73वां गणतंत्र दिवस,पीएम और गृह मंत्री सहित कई नेताओं ने दी देशवासियों को शुभकामनाएं

0 381

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

नई दिल्ली :  देश आज अपना 73 वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। इस मौके पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये हैं । वहीं देश की आन बान और शान से जुड़े पर्व पर प्रधानमंत्री मोदी समेत कई नेताओं ने देशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं।

बनिया पंचायत

PM मोदी ने ट्वीट कर 73वें गणतंत्र दिवस पर देशवासियों को शुभकामनाएं दी है। PM मोदी ने ट्वीटकर लिखा- आप सभी को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं। जय हिंद!

वोटर्स पार्टी इंटरनेशनल

वहीं गृह मंत्री अमित शाह ने भी ट्वीट कर 73वें गणतंत्र दिवस पर देशवासियों को शुभकामनाएं दी है।

उत्तरी उमगा पंचायत

उन्होंने लिखा,सभी को 73वें गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं। भारतीय गणतंत्र के गौरव, एकता व अखंडता को अक्षुण्ण बनाए रखने के लिए अपना सर्वस्व अर्पण करने वाले सभी जवानों को नमन करता हूं।आइए आज हम सभी स्वाधीनता के लोकतांत्रिक मूल्यों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता सुनिश्चित करने का संकल्प लें।

बब्लू टाइल्स दूकान

इस खास दिन के लिए दिल्ली पुलिस की ओर से जारी दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होने वालों को पूरी तरह से टीका लगाया होना चाहिए जबकि 15 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को समारोह में शामिल होने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

एरकी कला पंचायत

समारोह में शामिल मेहमानों को टीकाकरण का प्रमाण अपने पास रखना होगा और सभी कोविड-प्रोटोकॉल जैसे कि फेस मास्क पहनना और सामाजिक दूरी बनाए रखना, आदि का पालन करना होगा।

मदनपुर पंचायत

गणतंत्र दिवस परेड में कम से कम 21 झांकियां शामिल होंगी जिसमें 12 राज्यों और 9 मंत्रालयों या सरकारी विभागों की झांकियां होंगी।

खिरयावां पंचायत

वहीं 73वें गणतंत्र दिवस के मौके पर राष्ट्रीय राजधानी में उत्तराखंड को एक और गौरव का क्षण हासिल हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मौके पर पारंपरिक उत्तराखंड शैली की टोपी पहनी, जिस पर देवभूमि का राजकीय पुष्प ‘ब्रह्मकमल’ भी टंका हुआ था।

वरिष्ठ बीजेपी नेता

यह वही फूल है, जिस प्रधानमंत्री मोदी पहले भी केदारनाथ में पूजा के दौरान अर्पित करने के उपयोग में लेकर चर्चा में रहे थे। मणिपुरी गमछे के साथ मोदी ने यह टोपी पहनी तो उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पूरे राज्य की ओर से गौरव के क्षण को रेखांकित किया। हालांकि यह टोपी आज़ाद हिंद फौज की प्रतीक टोपी भी कही जाती है।

एरकी कला पंचायत समिति सदस्य

प्रधानमंत्री मोदी पहले भी गणतंत्र दिवस के मौके पर पारंपरिक वेशभूषा के लिए चर्चा में रह चुके हैं। इस बार उन्होंने मणिुपर के पारंपरिक बुने हुए गमछे यानी ‘लीरम फी’ के साथ उत्तराखंड की टोपी सिर पर पहनी। खबरों की मानें तो आधिकारिक पुष्टि की गई है​ कि मोदी की टोपी में ब्रह्मकमल चिह्न टंका हुआ था।

आंगनबाड़ी केंद्र खैरा( बारुण)

यह ऐसा फूल है जो हिमालय के दूरस्थ हिस्सों में पाया जाता है और उत्तराखंड ने इसे राजकीय पुष्प का दर्जा दिया है। इसका महत्व भौगौलिक, औषधीय, पौराणिक और हिंदू धर्म से जुड़ी परंपराओं में बताया जाता है।

बता दें कि आजादी के अमृत महोत्सव के आयोजन के साथ मनाए जा रहे इस बार के जश्न की शोभा में चार चांद लग गए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.