Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

औरंगाबाद: बारूण पुलिस ने छापेमारी कर बालू लदे दस ट्रैक्टर को किया जब्त

0 305

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: ओवर लोडिंग, परिवहन एवं अवैध खनन के खिलाफ बारूण के सोन नदी में पुलिस की छापेमारी लगातार जारी है।बुधवार को जिला खनन पदाधिकारी और बारूण थाना की पुलिस ने छापेमारी की। इस मामले में दस ट्रैक्टर को भी जब्त किया गया । जिला खनन पदाधिकारी ने बताया कि मंगरहिया एवं बारुण नेशनल हाइवे पुलिस चेक पोस्ट पर छापेमारी के दौरान अवैध कारोबार में जुड़े दस ट्रैक्टर को जब्त किया गया है।

बालू घाट

उन्होंने बताया कि बालू लदे कुछ ट्रैक्टरों का चालान नहीं तो कुछ ट्रैक्टर पर ओवरलोड बालू लदा पाया गया है। सभी ट्रैक्टर को बालू सहित बारुण थाना के अभिरक्षा में लगाया गया है। ट्रैक्टर पर बालू खनिज का अवैध परिवहन करने के कारण एमएमडीआर एक्ट के नियम और बिहार खनिज समानुदान, अवैध खनन, परिवहन निवारण नियमावली 19 के उल्लंघन मामले में कार्रवाई हो रही है। जब्त ट्रैक्टरों पर जुर्माना लगाया जाएगा। छापेमारी से बालू के कारोबारियों में कुछ देर के लिए हड़कंप रहा।

औरंगाबाद (अंबा) : वहीं अंबा में भी थाना की पुलिस ने
अवैध बालू उठाव मामले में चार पर प्राथमिकी दर्ज की है। ये सभी धनीबार गांव के हैं । हालांकि पुलिस को बालू लदा ट्रैक्टर हाथ नहीं लगा है। थानाध्यक्ष नरेंद्र कुमार ने बताया कि धनीबार गांव के लवकुश तिवारी, अमित कुमार पांडेय उर्फ बबलू पांडेय एवं विनीत कुमार पांडेय द्वारा चोरी छिपे नदी से बालू उठाव की सूचना मिली थी। मंगलवार को बगैर नंबर प्लेट के ट्रैक्टर से बालू का उठाव कर घर के सामने खड़ा किए जाने की सूचना मिली। सूचना मिलने के बाद बालू लदा तीनों ट्रैक्टर का फोटोग्राफ कराया गया। थानाध्यक्ष ने बताया कि संध्या गश्ती में लगे पुलिस पदाधिकारी विशेष कुमार झा को धनीबार आने की सूचना देकर पुलिस के साथ गांव पहुंचे तो तीनों ट्रैक्टर पर बालू लदा पाया। पुलिस को देखकर ग्रामीण एकत्रित हुए तो पूछा तो पूछताछ किया। इसी बीच लवकुश तिवारी, अमित कुमार पांडेय उर्फ बबलू पांडे एवं विनीत कुमार पांडे रात का लाभ उठाकर ट्रैक्टर लेकर नदी की ओर भागने लगे। थानाध्यक्ष ने बताया कि फोटोग्राफ के आधार पर सभी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है। आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।

आपको बता दें कि अवैध बालू खनन मामले में अबतक कई अधिकारियों पर गाज गिर चुकी है। वहीं कई अधिकारियों के घरों पर आर्थिक अपराध इकाई की छापेमारी की जा रही है । जिसमें करोड़ों की अवैध संपत्ति मिल रही है। इन सभी अधिकारियों के सांठ-गांठ बालू माफियाओं से हैं ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.