Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

Aurangabad: पुलिस ने बरामद किया लाईन होटल से अफीम-डोडा व अन्य नशीला पदार्थ, संचालक गिरफ्तार

0 159

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: भले ही बिहार में शराब बंदी लागू है। लेकिन इसके कारोबारी इससे बाज नहीं आ रहे हैं । वहीं पुलिस भी लगातार ऐसे शराब माफियाओं के खिलाफ लगातार कारवाई कर रही है। लेकिन अब अन्य नशीले पदार्थों का कारोबार भी राज्य में तेजी से बढ़ रहा है। कुछ ऐसी ही खबर औरंगाबाद जिले से है जहाँ शनिवार को पुलिस ने होटल संचालक को गिरफ्तार किया है। जिससे भारी मात्रा में अफीम-डोडा व अन्य नशीला पदार्थ बरामद किया गया है।

बता दें कि पुलिस ने बारुण थाना क्षेत्र के जोगिया स्थित खालसा लाइन होटल से शनिवार को भारी मात्रा में अफीम-डोडा एवं अन्य नशीला पदार्थ बरामद किया है। पुलिस अधीक्षक कांतेश कुमार मिश्रा ने बताया कि उन्हे गुप्त सूचना मिली कि एनएच-19 जीटी रोड पर जोगिया से सटें लाइन होटल पर भारी मात्रा में नशीला पदार्थ का स्टाॅक जमा कर रखा गया है। इस सूचना सत्यापन हेतु उन्होने अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सदर गौतम शरण ओमी के नेतृत्व में तत्काल एक विशेष छापेमारी टीम गठित की।

टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए खालसा लाइन होटल पर छापेमारी की। छापेमारी में सुखा हुआ पोस्ता का खोला 18 किलो, पीसा हुआ भुस्सी(डोडा) 11 किलो, एक प्लास्टिक के पन्नी में 60 ग्राम भूरे रंग का पाउडर, एक प्लास्टिक के पन्नी में काले रंग की टीकिया 14 ग्राम, भूरे रंग की टिकिया 30 ग्राम, लाल रंग का कैप्सूल 14 ग्राम, हरा-गुलाबी रंग का कैच 30 ग्राम एवं एक मोबाईल बरामद किया गया।

इस मामले में होटल में नशीला पदार्थ रखने एवं खरीद-बिक्री करने के आरोप में होटल के मालिक पंजाब के गुरुदासपुर जिले के डेरा बाबा नानक थाना के पनवाझौगी निवासी बलजीत सिंह को गिरफ्तार किया गया है। मामले में बारुण थाना के पुलिस अवर निरीक्षक शम्भू प्रसाद यादव के लिखित आवेदन पर भादवि की धारा-8, 15, 17, 18, 25 एनडीपीएस एक्ट के तहत बारूण थाना कांड सं-117/22 दर्ज कर होटल मालिक को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। पुलिस की छापेमारी टीम में बारूण थानाध्यक्ष धनंजय कुमार, पुलिस अवर निरीक्षक शम्भू प्रसाद शामिल है।

आपको बता दें कि बिहार में नीतीश सरकार ने 2016 से पूर्ण शराब बंदी लागू कर रखा है। लेकिन इसका व्यापार अभी भी इसके कारोबारियों द्वारा जारी है। इसे लेकर नीतीश सरकार हमेशा विपक्ष के निशाने पर भी रहता है। हालांकि नीतीश सरकार ने शराब माफियाओं पर कारवाई के लिए ड्रोन से भी निगरानी शुरू कर दी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.