Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

औरंगाबाद: मदनपुर प्रखंड के ताराडीह गांव में प्रथम महिला शिक्षिका सावित्री बाई फूले की जयंती धूमधाम से मनाई गई

0 265

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: सोमवार को जिले के मदनपुर प्रखंड के ताराडीह गांव के पुस्तकालय भवन में आदर्श युवा क्लब के द्वारा भारत की प्रथम महिला प्राध्यापिका  एवं समाज सुधारक सावित्री बाई फ़ूले की जयंती उत्साह एवं धूमधाम से मनाई गई । इस मौके पर उत्तरी उमगा पंचायत के समिति सदस्य प्रवीण कुमार ने उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी । इस मौके पर समित सदस्य ने कहा कि उनके द्वारा समाज सुधार और शिक्षा की ज्योति लोगों के बीच फैलाने के योगदान को नहीं भूलाया जा सकता है।

शिक्षिका सावित्री बाई फूले

उन्होंने कहा कि सावित्री बाई का जीवन बालिकाओं की शिक्षा व समाज सुधार के लिए समर्पित था। समाज में चेतना जगाने के बदले लोग उनपर पत्थर बरसाते थे, लेकिन वह अपने कर्म से कभी पीछे नहीं हटीं। आगे चलकर वह भारत की प्रथम शिक्षिका कहलाईं और मराठी भाषा में अनेकों कविताओं की रचना कर समाज को जागरूक किया।

सावित्री बाई फूले जयंती

उन्होंने महिलाओं में शिक्षा की किरण घर-घर जाकर पहुंचाने का काम किया । उनके योगदान को देश कभी नहीं भूल सकता। वहीं सभी ने दीप प्रज्ज्वलित कर उनके जन्मदिन पर माता सावित्री बाई फुले को याद कर नमन किया ।

उत्तरी उमगा, समिति

इस अवसर पर शिक्षक विजय कुमार, शिक्षक मुकेश कुमार, सुदर्शन कुमार, जैनुल अंसारी , हरेन्द्र कुमार, निशांत भारती,प्रेम कुमार, नैतिक राज, अनुष्का कुमारी , पीयूष, पृथ्वी कुमार, उज्ज्वल कुमार, प्रियान्शु कुमार, आदित्य गोयल, आयुष गोयल, शैलेंद्र, नंदू , अंशु, रिशु सुभाष सहित सैकड़ों लोग उपस्थित रहे ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.