Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

चार महीने के कार्यकाल में थाना प्रभारी ने कायम किया कानून का राज

1 272

 

बिहार नेशन: आज के समय में प्रशासनिक सेवा से जुड़कर रहना बहुत ही धैर्य का कार्य है। अपने दायित्वों  का निर्वहन करते हुए ईमानदारी और कर्तव्यनिष्ठा का पालन करना बहुत मुश्किल कार्य होता है। इसके लिये कई संकटों का सामना करना पड़ता है। लेकिन कुछ ऐसे भी प्रशासनिक लोग होते हैं जो इस कार्य को बखूबी निभाते हैं । ऐसे ही एक बिहार पुलिस सेवा विभाग के हैं माली थाना प्रभारी  पवन कुुमा र।  इनकी सक्रियता और कर्तव्यनिष्ठा का इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि चार महीने के कार्यकाल में इन्होंने 26 शराब माफियाओं को गिरफ्तार किया है और  चार हजार से अधिक लीटर शराब बरामद कर माफियाओं का कमर तोड़ दिया। इन्होंने इन माफियाओं के खिलाफ दर्जनों मामले दर्ज किये हैं ।

साथ ही इन्होंने अवैध बालू से लदे कई ट्रैक्टर जब्त किया है। समाजीक कार्यों में उल्लेखनीय योगदान के साथ कोरोना महामारी के दौरान आवश्यक नियमों को सख्ती से पालन करवाने तथा कई लंबित थाना काण्डों को निष्पादन एवं जेल से रिहा हुये अपराधी सूची में शामिल अभियुक्तों को गुंडा परेड के तहत उनके व्यवहारों व कृत्यों का उचित मूल्यांकन कर गुंडा सूची से बाहर करने जैसे विभिन्न मापदंड और कार्य के जरिए वे अपनी कार्यकुशलता पर खरे उतरे है।

अर्थात एक पुलिस की अपराधों पर अंकुश लगाने , शांति व्यवस्था बहाल करने तथा जनता से सीधा जुड़ाव स्थापित किया है। चाहे वह जिस वर्ग का हो जनता बेझिझक अपनी समस्याएं थाना प्रभारी के समक्ष रखता है, तथा माममे में थाना प्रभारी द्वारा उचित कार्यवाई भी की जाती है। श्री कुमार बताते हैं  कि पुलिस महकमा समाज में अपराध पर तो अंकुश लगाता ही है साथ में समाज सेवा का भी धर्म निभाता है। पुलिस की जिम्मेदारी बनती है कि वर्दी और कानून के मुताबिक काम कर पीड़ित को न्याय दिलाया जाए। अपनी मेहनत एवं समर्पण से काम करते हुए जनता को न्याय दिलाए।

 कुमार  बताते है कि हमारी पहली प्राथमिकता आपराधिक घटनाओं पर नकेल कसना है। इसके साथ ही आम लोगों को किसी तरह की परेशानी न हो, इसका भी ध्यान रखना है। उन्होंने कहा कि तमाम पुराने अपराधियों का रिकाॅर्ड खंगाला जाएगा और उनकी गतिविधियों पर भी नजर रखी जाएगी। थाना क्षेत्र में शराब कारोबारियों तथा उचक्कों पर पुलिस की पैनी नजर है।

उन्होंने बताया कि नियमित गश्त मेरी प्राथमिकता में शामिल है। इसके साथ ही गश्त को लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह से सजग भी है। थाना क्षेत्र में अपराध नियंत्रण की प्राथमिकता के साथ आमजन से सहयोग की अपेक्षा है। विधि व्यवस्था का अनुपालन हो इसका भी वे ख्याल रखेंगे। भविष्य में अपराध नियंत्रण की रूप रेखा तय कर उसपर मुस्तैदी से अमल करेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.