Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

मदनपुर प्रखंड के पंचायतों में वार्ड सचिव पद के लिए हुए चुनाव में मदनपुर में निर्विरोध तो मनिका एवं उत्तरी उमगा पंचायत में विवाद की खबर

0 311

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार में भले ही पंचायत चुनाव को संपन्न हुए आज एक वर्ष पूरे होनेवाला है। लेकिन अभी तक कई पंचायतों के वार्डों में वार्ड सचिव का चयन नहीं हो सका है। जिससे विकास कार्य भी प्रभावित हो रहे हैं। ऐसा नहीं है कि चुनाव ही नहीं वार्ड सचिव का कराया गया है।

चुनाव तो कई बार हुए लेकिन चुनाव वार्ड के ग्रामीणों के विवाद के कारण भेंट चढ़ गया। कुछ इसी तरह की खबर औरंगाबाद जिले के मदनपुर प्रखंड अंतर्गत विभिन्न पंचायतों से भी है। जहाँ सोमवार को कई पंचायतों में चुनाव कराये गये लेकिन कई वार्डों में विवाद के कारण यह फिर से टाल दिया गया तो कहीं निर्विरोध भी वार्ड सचिव का चयन हुआ ।

ग्राम पंचायत: मदनपुर 

मदनपुर पंचायत के वार्ड नंबर -03 में वार्ड सचिव का चुनाव शांतिपूर्ण संपन्न हुआ। इस वार्ड से वार्ड सचिव बिरजू भुईयां को चुना गया । चुनाव 11 बजे शुरू हुए और 1 बजे समाप्त हो गया।

चुनाव के दौरान पंचायत सचिव रंजन सिंह, वार्ड सदस्य मो. इमरान, डाटा इंट्री ऑपरेटर राजू की उपस्थिति में चुनाव संपन्न हुआ।इस मौके पर वार्ड सदस्य इमरान ने बताया कि चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो गया । वार्ड की जनता ने सर्वसम्मति से बिरजू भुईयां को वार्ड सचिव चुन लिया।

ग्राम पंचायत: मानिका 

ग्राम पंचायत मनिका के वार्ड -03 में चुनाव विवाद के कारण नहीं हो सका। वहाँ चुनाव के लिए तीन प्रत्याशी मैदान में थे। चुनाव के लिए प्राथमिक मध्य विद्यालय,  धोबडीहा को मतदान केंद्र बनाया गया था। लेकिन वहाँ वोटिंग को लेकर विवाद हो गया।

चुनाव रद्द करने के लिए आवेदन

उम्मीदवार पंकज कुमार ने बताया कि इस चुनाव में पारदर्शिता की कमी थी इसलिए हम इस चुनाव का बहिष्कार करते हैं । और साथ ही चुनाव को रद्द करने के लिए मदनपुर प्रखंड विकास पदाधिकारी को आवेदन दिया हूँ ।

सीएसपी

बता दें कि इस वार्ड से तीन उम्मीदवार पंकज कुमार, नागेंद्र कुमार, शक्ति सिंह थे। चुनाव के लिए ब्लॉक से स्टाफ 9.30 बजे पहुंच चुके थे।

चुनाव मतपेटी

इस दौरान पंचायत के सचिव कमलेश प्रसाद, डाटा इंट्री ऑपरेटर आशीष एवं वार्ड सदस्य सुनैना देवी उपस्थित रही । कुल मिलाकर यहाँ का चुनाव विवादों में है।

ग्राम पंचायत: उत्तरी उमगा 

( वार्ड संख्या- 08 और 12 )

वार्ड : 08/  उत्तरी उमगा पंचायत के अंजनवां गांव में भी वार्ड संख्या-08 के लिए चुनाव कराया गया। लेकिन यहाँ का चुनाव भी विवादों में है। चुनाव के लिए मतदान केंद्र अंजनवां विद्यालय को बनाया गया था। जिसके लिए तीन उम्मीदवार मैदान में थे। कुल मतों की संख्या 49 थी। जिसमें उम्मीदवार विनय कुमार को 23 वोट मिला, त्रिशा यादव को 22 वोट प्राप्त हुआ वहीं तीसरे उम्मीदवार अमरेन्द्र कुमार  जो पुर्व में भी वार्ड सचिव रहे थे उन्हें मात्र 2 वोट मिला। वहीं दो वोट गायब होने के कारण वार्ड सदस्य रानी देवी ने चुनाव रद्द करने की मांग की। इस मामले में वार्ड सदस्य के पति और प्रतिनिधि ने बताया कि दो वोट का पता नहीं चला है। इसलिए इसे रद्द करने की मांग त्रिशा यादव ने आवेदन देकर प्रखंड विकास पदाधिकारी के पास की है ।इसे रद्द होना चाहिए।

वहीं सबसे अधिक मत लानेवाले विनय यादव का कहना है कि वे एक वोट से चुनाव जीत चुके हैं । वार्ड सदस्य द्वारा लगाया जा आरोप गलत और बेबुनियाद है। ग्रामीण जनता इसे स्वीकार कर चुकी है। बता दें कि चुनाव की शुरूआत 11 बजे हुई । इस दौरान पंचायत सचिव कामेश राम, वार्ड सदस्य रानी देवी, डाटा इंट्री ऑपरेटर अमित कुमार और विकास मित्र उपस्थित रहे।

वार्ड : 12 /  वहीं इसी पंचायत के वार्ड संख्या -03 में सुगी गांव में भी चुनाव विवादों में है। वहाँ भी वोटिंग 12 बजे शुरू। इस वार्ड से दो उम्मीदवार सोनू और रमेश चुनाव में थे। मिली जानकारी के मुताबिक टोटल 149 वोट पड़े लेकिन गिनती में 15 वोट बढ़ गया । इस वार्ड से भी रद्द करने के लिए आवेदन देने की खबर है। इस दौरान पंचायत सचिव, डाटा इंट्री ऑपरेटर और विकास मित्र मौजूद रहे ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.