Bihar Nation
सबसे पहले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

जदयू विधायक रत्नेश सदा ने ली मंत्री पद की शपथ, लगातार 3 बार से हैं विधायक

0 339

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार में नीतीश मंत्रिमंडल का विस्तार किया गया है। शुक्रवार को जदयू के विधायक रत्नेश सदा को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई है। बता दें कि हाल ही में पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के बेटे संतोष सुमन ने मंत्री पद से इस्तीफा दिया था। उसके बाद यह विस्तार किया गया है।

बजाज महाधमाका ऑफर

बता दें कि रत्नेश सदा सोनबरसा राज सुरक्षित सीट से
जेडीयू के विधायक हैं। राजभवन के दरबार हॉल में उन्होंने मंत्री पद की शपथ ली। राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर उन्हें पद की गोपनीयता की शपथ दिलाई।

मंत्रिमंडल विस्तार

इस मौके पर सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव भी मौजूद रहे। साथ में कई अन्य मंत्री भी उपस्थित रहे। जीतन राम मांझी के बेटे संतोष मांझी भी जेडीयू कोटे से नीतीश कैबिनेट में मंत्री बनाए गए थे। उन्हें अनुसूचित जाति जनजाति कल्याण विभाग का मंत्री बनाया गया था। उनके इस्तीफे के बाद अब रत्नेश सदा को मंत्री बनाया गया है।

शुक्रवार को जब रत्नेश सदा मंत्री पद की शपथ लेने के लिए राजभवन पहुंचे तो यहां कई मंत्री पहुंचे हुए थे। रत्नेश सदा के शपथ ग्रहण समारोह में मंत्री विजय चौधरी, श्रवण कुमार, अशोक चौधरी, बिजेंद्र यादव, तेज प्रताप यादव, प्रो. चंद्रशेखर, समेत अन्य कई मंत्री मौजूद रहे। जेडीयू राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह और प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा भी मौजूद रहे। इस मौके पर रत्नेश सदा की मां, उनकी पत्नी, बेटा और बहू भी थे।

बता दें कि रत्नेश सदा 2010 में पहली बार जेडीयू कोटे से सोनबरसा राज सुरक्षित सीट से विधायक बने। सोनबरसा राज विधानसभा सुरक्षित सीट है। लगातार तीन बार जीत मिली है। रत्नेश सदा की अपनी क्षेत्र में काफी पकड़ है। वो महादलित समुदाय से आते हैं। ऐसे में यह माना जा रहा है कि संतोष मांझी जिस विभाग के मंत्री थे वही विभाग अब रत्नेश सदा संभालेंगे।

उधर, विपक्षी दलों की बैठक के पूर्व संतोष सुमन के मंत्रिमंडल से इस्तीफा के बाद राज्य की सियासत गर्म हो गई है। संतोष ने कहा कि उनके इस्तीफा देने की वजह यही है कि उनके पास विलय करने का प्रस्ताव आया था। इसके लिए वे तैयार नहीं हुए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.