Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

लालू परिवार पर जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने साधा निशाना, कहा उनकी फैमिली दिन-रात केवल ट्वीट करती है

इस समय पूरा देश कोरोना की संक्रमण से जुझ रहा है। लेकिन बिहार की सियासत उफान पर है। बिहार की दो प्रमुख राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे पर छीटा- कशी करने का कोई भी मौका नहीं छोड़न चाहती हैं

0 84

पटना: इस समय पूरा देश कोरोना की संक्रमण से जुझ रहा है। लेकिन बिहार की सियासत उफान पर है। बिहार की दो प्रमुख राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे पर छीटा- कशी करने का कोई भी मौका नहीं छोड़ना चाहती हैं । इस कोरोना काल में भी दोनों पार्टियों के बीच में ट्विटर वार छिड़ गया है। जहाँ जेडीयू के प्रवक्ता और पूर्व मंत्री नीरज कुमार ने लालू परिवार को आपदा का ट्विटर परिवार बता दिया है। जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने तेजस्वी यादव पर जमकर निशाना साधते हुए कहा की लालू परिवार केवल दिन-रात ट्विटर पर लगा रहता है।

जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने लालू परिवार पर निशाना साधते हुए ट्विटर का सारा विवरण शेयर कर दिया । उन्होंने कहा कि लालू फैमिली ने  17 अप्रैल से लेकर 17 मई तक एक महीने में 737 ट्वीट और रीट्वीट किये हैं । बजावता उन्होंने डाटा पेश करते हुए कहा कि 18 मई को 44 ट्वीट किया गया है जबकि 19 मई से लेकर 20 मई तक 125 ट्वीट किये हैं वो भी मात्र दोपहर 1:30 बजे तक । उन्होंने लालू परिवार पर निशाना साधते हुए कहा कि एक महीने में इस फैमिली ने 906 ट्वीट और रीट्वीट किये हैं ।

लालू यादव

जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार यहीं नहीं रुके उन्होंने तेजस्वी यादव के द्वारा बनाये गये कोविड  केयर सेंटर पर भी सवाल उठाएं । उन्होंने कहा कि प्रतिपक्ष नेता तेजस्वी यादव को यह किसने अधिकार दिया की वे सरकारी भवनों या संपत्ति में आरजेडी के नाम से कोविड  केयर सेंटर चलाएं ।  उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण एक प्राकृतिक आपदा या महामारी है इसपर किसी को भी राजनीतिक रोटियाँ नहीं सेंकनी चाहिए ।

भला राजद इस जेडीयू के हमले पर कैसे रूकने वाली थी । राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने भी इसपर मोर्चा संभाल लिया । उन्होंने जेडीयू के प्रवक्ता नीरज कुमार के ट्वीट पर पलटवार करते हुए कहा की बिहार में इस आपदा की घड़ी में सरकार की तरफ से केवल ट्विटर के जरिये ही मदद पहुंचाया जा रहा है। जबकि हकीकत में लोगों को किसी भी प्रकार की सुविधाएं नहीं मिल रही हैं । सीएम नीतीश कुमार को अब नींद से जाग जाना चाहिए ।

वहीं इनसब के बीच इससे पहले बीजेपी से राज्यसभा सांसद और बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने ट्वीट कर कहा था कि तेजस्वी प्रसाद के परिवार में दो बहनें एमबीबीएस हैं कोरोना काल में उनकी मदद लेनी चाहिए। इसपर आचार्य रोहिणी जो लालू प्रसाद की बेटी हैं ट्विटर के जरिये गुस्से का इजहार की थी और बोलीं थी कि अगर सुशील मोदी ने बहनों के बारे में कुछ बोला तो उनके आवास पर जाकर थूर देंगी ।

आपको बता दें कि बिहार में कोरोना संक्रमण को लेकर स्थिति बेहद ही खराब चल रही है। अस्पतालों में मरीजों को जो जरूरी मेडिकल सुविधाएं हैं वह भी नहीं मिल पा रहा है।  ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी के कारण कई लोग अभी तक दम तोड़ चुके हैं । जबकि कल हे प्रतिपक्ष नेता तेजस्वी यादव ने एक विडियो शेयर कर कहा था की उन्होंने कोरोना पीड़ितों के इलाज के लिये अपने 1पोलो सरकारी आवास को कोविड केयर सेंटर बना दिया है। सरकार उसके लिये इजाजत दे। और उसे अपने नियंत्रण में ले। कुछ दिन पहले भी तेजस्वी ने एक चिठ्ठी लिखकर सीएम नीतीश से कोरोना पीड़ितों के इलाज की देख रेख के मुद्दों पर अनुमति मांगा था।

जेपी चन्द्रा की रिपोर्ट

Leave A Reply

Your email address will not be published.