Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

बिहार के 20 जिलों में जमीन सर्वे का काम,जानें कौन-कौन से जिले हैं !

बिहार में जमीनी विवाद को लेकर अक्सर हिंसा की खबरें आती रहती हैं ।लेकिन अब सरकार भी इन विवादों को खत्म करने के लिये कमर कस चुकी है

0 177

 

BIHAR NATION : बिहार में जमीनी विवाद को लेकर अक्सर हिंसा की खबरें आती रहती हैं ।लेकिन अब सरकार भी इन विवादों को खत्म करने के लिये कमर कस चुकी है। अब इससे जुड़ी बड़ी खबर सामने आ रही है कि नीतीश सरकार ने 20 जिलों में जमीन सर्वे का काम जल्दी से पूरा करने का निर्देश दिया है। ताकी पहले चरण में सर्वे का खत्म किया जा सके ।

आपको बता दें की बिहार के खगड़िया, जमुई, शिवहर, शेखपुरा, सहरसा, सीतामढ़ी, जहानाबाद, नालंदा, चंपारण, पूर्णिया, बांका, बेगूसराय, मधेपुरा, मुंगेर, लखीसराय, सुपौल, अररिया, अरवल, कटिहार और किशनगंज में जमीन सर्वे का काम चल रहा हैं।

वहीं उनलोगों को भी बता दें जिनके पास कागज नहीं है तो सर्वे कैसे कराएं। सरकार ने वैसे लोगों को लिये एक वेबसाइट पोर्टल लॉन्च किया है जहाँ से जाकर अपनी कागज देख सकते हैं ।

वेबसाइट पर आप जमीन के मालिक का नाम, खसरा इत्यादि भर कर आप इसके बारे में पूरी डिटेल्स ले सकते हैं। इसके लिए आपको सबसे पहले http://biharbhumi.bihar.gov.in/Biharbhumi/ पर विजिट करना होगा। इस वेबसाइट पर जाने के बाद सभी डिटेल्स भरकर आप जमीन का खतियान इत्यादि प्रिंट आउट लेकर सर्वे करा सकते हैं।

लेकिन आपके मन में यह सवाल जरूर आ रहा होगा कि जमीन के सर्वे से क्या फायदे होंगे तो बिन्दुवार इसे समझें:

1 .सबसे बड़ा फायदा यह होगा की जमीन वाद-विवाद समाप्त हो जायेगा।

2 . सर्वे से सभी लोगों का नया खतियान बनेगा।

3 .इससे जमीन के वास्तविक मालिकों का तुरंत पता चल पाएगा।

4 .सर्वे के बाद जमीन के खतियान की हार्ड कॉपी और डिजिटल कॉपी भी तैयार होगी।

5.जमीन की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन हो जाएगी।

6.बिहार में जमीन की खरीद बिक्री के बाद खतियान निरंतर अपडेट होता रहेगा।

अगर ये सारी जमीन से जुड़ी समस्याओं का निराकरण हो जाता है तो लाजमी है कि आपराधिक घटनाएं और घरेलू हिंसा पर भी रोक लगेगी । इससे न केवल नयायपालिका पर से बोझ हटेगा बल्कि राज्य के विकास में भी तेजी आएगी ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.