Bihar Nation
सबसे पहेले सबसे तेज़, बिहार नेशन न्यूज़

मांझी ने हम पार्टी के स्थापना दिवस पर दिया विवादित बयान, कहा-नीतीश की मीटिंग में 10 आदमी भी नहीं आता था

0 157

 

जे.पी.चन्द्रा की रिपोर्ट

बिहार नेशन: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) पार्टी के सुप्रीमों जीतन राम मांझी ने अपनी पार्टी का 7 वां स्थापना दिवस मनाया। उनकी पार्टी का 24 जुलाई के दिन ही गठन हुआ था। इस दौरान पूर्व सीएम मांझी ने बोधगया में बाबा साहेब भीम राव अंबेडकर और पर्वत पुत्र दशरथ मांझी के फोटो पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम की शुरूआत की। यह कार्यक्रम बोधगया स्थित सांस्कृतिक केंद्र में किया गया। वहीं पटना में इस 7 वें स्थापना दिवस पर पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जीतन राम मांझी के कटआउट के साथ हम का बर्थडे केक काटा।

बता दें कि जदयू से अलग होने के बाद जीतन राम मांझी ने 2015 को अलग पार्टी ‘हिन्दुस्तान आवाम मोर्चा’ बनाई थी। वर्ष 2015 के चुनाव में उनकी पार्टी का एनडीए के साथ गठबंधन हुआ। उनकी पार्टी 21 सीटों पर चुनाव लड़ी पर सिर्फ एक सीट ही जीत सकी। वह एक सीट मांझी ने ही जीती थी।

आपको बता दें कि पूर्व सीएम जीतन राम मांझी शुरू से ही प्रखर नेता के साथ-साथ विवादित बयानों के लिए चर्चा में रहते हैं। उन्होंने शराब बंदी को लेकर भी हमेशा विवादित बयान दिया है। उन्होंने कई बार कहा कि थोड़ा-थोड़ा शराब पीने में कोई बुराई नहीं है। वहीं उन्होंने भगवान् श्री राम के बारे में भी कई बार कहा कि श्री राम काल्पनिक थे। इस पर कई बार बवाल भी मचा है।

इस कार्यक्रम के दौरान हजारों की संख्या में पार्टी के कार्यकर्ता मौजूद रहे। पार्टी सुप्रीमों मांझी ने इस दौरान कार्यकर्ताओं को बारी-बारी से सम्मानित किया। पार्टी के सातवें स्थापना दिवस के मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह बिहार सरकार के मंत्री संतोष कुमार सुमन, राष्ट्रीय प्रवक्ता दानिश रिजवान, प्रदेश महासचिव रोमित कुमार, प्रदेश उपाध्यक्ष रामेश्वर यादव, जिला अध्यक्ष नारायण मांझी सहित कई वरीय नेता शामिल हुए।

वहीं मांझी ने इस दौरान एक बड़ा बयान भी दे दिया है। उन्होंने कहा कि सीएम नीतीश कुमार की मीटिंग में तो दस आदमी भी नहीं आता था और हमारी मीटिंग में हजारों लोग आए हैं। मांझी ने इस दौरान कार्यकर्ताओं को पार्टी की नीतियो और सिद्धांत को समझाया। स्थापना दिवस में यह भी चर्चा हुई कि पार्टी के 4 विधायक से 40 विधायक कैसे होंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.